Moneycontrol » समाचार » टैक्स

आम आदमी को तोहफा, आयकर में राहत

प्रकाशित Thu, 10, 2014 पर 13:01  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लंबे समय से की जा रही मांग पूरी कर दी है। अरुण जेटली ने 2.5 लाख रुपये तक की आय पर टैक्स छूट दे दी है। पहले ये टैक्स छूट 2 लाख रुपये तक की आय पर थी। इसके अलावा वरिष्ठ नागरिकों (सीनियर सिटीजन) की 3 लाख रुपये तक की आय टैक्स मुक्त कर दी गई है।


इसके अलावा वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सेक्शन 80सी के तहत निवेश पर टैक्स छूट सीमा 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 1.5 लाख रुपये कर दी है। साथ ही होमलोन के ब्याज पर बड़ी छूट भी दी है। अब 1.5 लाख रुपये के बजाए 2 लाख रुपये तक के होमलोन के ब्याज पर टैक्स छूट मिलेगी। इसके अलावा पीपीएफ में ऊपरी निवेश की सीमा बढ़ाकर 1.5 लाख रुपये की जाएगी।


अगर टैक्स बचाने के मौकों का पूरा फायदा उठाया जाता है तो 35,000 रुपये तक की बचत हो सकती है। आइए देखते हैं कि कमाई के हिसाब से आप अधिकतम कितना टैक्स बचा सकते हैं। अगर आपकी आमदनी 5 लाख रुपये से कम और 2.5 लाख रुपये से ज्यादा है यानी आप 10 फीसदी के टैक्स ब्रैकेट में हैं तो 5000 रुपये की सीधी बचत टैक्स फ्री इनकम की सीमा बढ़ने से हो जाएगी। 80सी निवेश की सीमा बढ़ने और आपके पूरा फायदा उठाने से और 5000 रुपये की बचत होगी। अब अगर आप होमलोन ब्याज पर मिलने वाली पूरी 2 लाख रुपये की छूट लेते हैं तो 5000 रुपये की एक्स्ट्रा बचत हो जाएगी। यानी 10 फीसदी के स्लैब वाले टैक्सपेयर 15000 रुपये तक बचा सकते हैं।


5 लाख रुपये से ऊपर कमाने वाले जो लोग 20 फीसदी के स्लैब में आते हैं उन्हे टैक्स फ्री इनकम बढ़ने का 5000 रुपये का फायदा तो वैसे ही मिलेगा लेकिन 80सी और होमलोन ब्याज में टैक्स सेविंग के चलते 10-10,000 रुपये का फायदा होगा यानी कुल 25,000 रुपये की बचत।


10 लाख रुपये से ऊपर कमाने वाले लोग के लिए तो ये बचत और ज्यादा होगी। क्योंकि 80 सी और होमलोन ब्याज की बढ़ी हुई सीमा से वो 15000-15000 रुपये बचा सकते हैं। ऊपर से टैक्स फ्री इनकम बढ़ने से 5000 रुपये की टैक्स बचत अलग से यानी कुल 35,000 रुपये का फायदा होगा।