Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनी: कैसे जुटाएं 12 साल में 50 लाख रुपये

प्रकाशित Sat, 17, 2015 पर 17:53  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अगर सही प्लानिंग हो तो बड़े-बड़े सपनों को पूरे करना भी काफी आसान हो जाता है। योर मनी में हमारा फोकस हमेशा आपकी पूरी फाइनेंशियल प्लानिंग पर होता है, जिसके लिए जरूरी है इन्वेस्टमेंट के सटीक तरीके की जानकारी। आज आपके सवालों के जवाब देने के लिए हमारे साथ हैं आनंद राठी फाइनेंशियल सर्विसेज के डायरेक्टर एंड हेड ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रोडक्ट्स फिरोज अजीज।


सवाल: मेरी उम्र 33 साल है। मेरी सैलरी 48000 रुपये प्रति महीने है। मैं शादीशुदा हूं और मुझे 4 साल का बेटा भी है। मैंने इंश्योरेंस प्लान में 1.4 लाख रुपये हर साल का निवेश कर रहा हूं। मैंने 11 लाख रुपये का लोन ले रखा है जिसके लिए 12,000 रुपये की ईएमआई देता हूं। मैं 4 साल से हर साल एलआईसी प्रीमियम के तौर पर 30,000 रुपये और 12500 और 28,500 रुपये जमा करता हूं। इसके अलावा बजाज आलियांज में हर साल 45,000 रुपये और मैक्स लाइफ में हर साल 25,000 रुपये निवेश करता हूं। मैं बेटे की पढ़ाई के लिए 12 साल में 50 लाख रुपये, रिटायरमेंट के लिए 25 साल में 1 करोड़ रुपये, अपना घर खरीदनें के लिए 5 साल में 15 लाख रुपये जुटाना चाहता हूं। क्या करूं?


जवाब: ट्रेडिशनल पॉलिसी में 5-6 फीसदी से ज्यादा रिटर्न नहीं मिलता। आप पॉलिसी के पैसों से निवेश के अपने सारे लक्ष्य पूरे नहीं कर पाएंगे। आप इन सारी पॉलिसी से निकलें और एक ऑनलाइन टर्म प्लान खरीदें। आप एचडीएफसी क्लिक 2 प्रोटेक्ट प्लस प्लान खरीद सकते हैं। आपके लक्ष्य लंबी अवधि के हैं इसलिए इक्विटी-डेट रेश्यो 65:35 रखें। आप अपने लक्ष्य हासिल करने के लिए 16,000 रुपये की मंथली एसआईपी करें और निवेश की रकम हर साल 10 फीसदी बढ़ाते जाएं। इक्विटी फंड की बात करें तो आप लार्ज कैप में एक्सिस इक्विटी, एसबीआई मैग्नम ब्लूचिप फंड में और मिडकैप में आईसीआईसीआई प्रू वैल्यू डिस्कवरी, फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा फंड में निवेश कर सकते हैं। डेट फंड की बात करें तो आप फ्रैंकलिन इंडिया इनकम ऑपर्च्युनिटी, आईसीआईसीआई प्रू रेगुलर सेविंग्स फंड में निवेश कर सकते हैं।


सवाल: मेरी सैलरी 50,000 रुपये प्रति माह और खर्च 15,000 रुपये प्रति माह है। में होम लोन के लिए 20,000 रुपये की ईएमआई देता हूं। मैं 5 लाख रुपये सम एश्योर्ड के लिए हर साल 27000 रुपये एलआईसी प्रीमियम देता हूं। बाकी बची हुई रकम बैंक एफडी में डालता हूं। एफडी में पैसे डालूं या होम लोन का प्रिंसिपल पेमेंट करना बेहतर होगा?


जवाब: होम लोन की ईएमआई जारी रखें। अतिरिक्त रकम एफडी के बजाय म्यूचुअल फंड के जरिए इक्विटी में डालें, ज्यादा रिटर्न मिलेगा। शेयर बाजार लंबी अवधि के लिए बहुत अच्छे होते हैं।


वीडियो देखें