Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरुः पीपीएफ पर टैक्स से जुड़ी अहम बात

प्रकाशित Sat, 07, 2015 पर 16:39  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हाजिर है टैक्स गुरु आपकी सभी उलझनों को दूर करने के लिए। आइए लेते हैं टैक्स से जुडे आपके सवालों जिनके जवाब देंगे टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया।  


सवाल : 15 साल पूरे होने पर अगर पीपीएफ खाते में पैसे नहीं डालते हैं तो क्या आगे के सालों में टैक्स छूट ब्याज मिलता रहेगा या नहीं? 


सुभाष लखोटिया : दो पीपीएफ खाता रखना गैरकानूनी है। पीपीएफ खाता 15 साल की मियाद पूरी होने के बाद भी जारी रखा जा सकता है। 15 साल के बाद पीपीएफ खाता और 5 साल के लिए, और फिर दोबारा 5 साल के लिए जारी रख सकते हैं। खाता जारी रखने पर पीपीएफ का कर्जमुक्त ब्याज भी मिलता रहता है। 


सवाल : लोगों की इनकम टैक्स से जुड़ी परेशानियां दूर करने के लिए आईटी अधिकारियों को प्रधानमंत्री से क्या हिदायत मिली है और उससे आपको कैसे होगा फायदा?


सुभाष लखोटिया : प्रधानमंत्री ने की नई पहल की शुरुआत। पीएम ने पूरे आईटी विभाग को निर्देश दिए की वो बुधवार को 10-1 बजे तक लोगों से मिले और उनकी समस्याएं जानकर उन्हें सुलझाएंगे। किसी से मिलने के लिए समय लेने की जरूर नहीं है। आयकर अधिकारी को अपने आने की सूचना पहले से नहीं देनी होगी। बुधवार के दिन तय समय के बीच जाकर अधिकारी से मिलकर अपनी समस्या का हल पा सकते हैं।  


सवाल : 1 लाख रुपये का निवेश करना चाहता हूं। निवेश और टैक्स बचत पर सलाह चाहिए?  


सुभाष लखोटिया : निवेश के साथ ही टैक्स बचत भी फायदा उठाना चाहते हैं तो सेक्शन 80 सी के निवेश विकल्पों पर ही फोकस करना चाहिए। करदाता पीपीएफ अकाउंट, लाइफ इंश्योरेंस या ईएलएसएस में निवेश कर सकते हैं।


सवाल : क्या शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन पर इनकम टैक्स बचा सकते हैं?


सुभाष लखोटिया : शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन पर टैक्स बचत मुमकिन नहीं है। प्रॉपर्टी या कैपिटल गेन बॉन्ड में या किसी भी तरह के निवेश से टैक्स बचत करना मुमकिन नहीं है। शेयर से हुए शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन पर करीब 15 फीसदी की दर से टैक्स लगता है और बाकी एसटीसीजी की राशी इनकम में जोडकर स्लैब के मुताबिक लगता है। प्रॉपर्टी बेचते समय कम से कम 3 साल के होल्डिंग का समय ध्यान जरूर रखना चाहिए। निवेश करके शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन की बचत  


वीडियो देखें