Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरु: बजट के बाद कैसे करें टैक्स प्लानिंग

प्रकाशित Sat, 14, 2015 पर 17:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हाजिर है टैक्स गुरु जिसमें टैक्स एक्सपर्ट सुभाष लखोटिया सुलझाएंगे आपकी उलझन और बनाएंगे टैक्स को आसान।

सवाल : नए बजट को देखते हुए आगे की टैक्स प्लानिंग कैसे और कहां करनी चाहिए ताकि आपको मिलें ज्यादा से ज्यादा फायदा?


सुभाष लखोटिया : इस नए बजट में इंडिविज्युअल टैक्सपेयर्स के लिए 3 खास फायदे की बाते हैं। टैक्सपेयर्स पेंशन फंड में निवेश कर अतिरिक्त 50,000 रुपये की टैक्स छूट का लाभ उठा सकते हैं। वहीं पूरे परिवार के लिए हेल्थ इंश्योरेंस लेकर उसके प्रीमियम पर टैक्स छूट का फायदा ले सकते हैं, इसलिए सभी को हेल्थ इंश्योरेंस लेना चाहिए।

इसके अलावा वेतनभोगी कर्मचारी भी बढ़ी हुई ट्रांसपोर्ट अलाउंस में छूट का फायदा उठा सकते हैं। बजट में 80सी में इंश्योरेंस को सबसे ज्यादा महत्त्व दिया है। जीवन बीमा के साथ ही टर्म इंश्योरेंस जरूर लेना चाहिए और अपने लोन की रकम के बराबर का टर्म इंश्योरेंस लेना चाहिए।       


सवाल : कैसे मिलेगी पेंशन फंड में निवेश करके अतिरिक्त 50 हजार की छूट?

सुभाष लखोटिया : एनपीएस में सेक्शन 80सीसीडी के तहत 50,000 रुपये के अतिरिक्त निवेश छूट मिलेगी। वहीं पेंशन फंड में भी निवेश पर सेक्शन 80सी से छूट अलग से मिलेगी। पेंशन फंड में कंपनी के योगदान पर भी छूट मिलेगी। एनपीएस में सेक्शन 80सीसीडी के तहत करीब 1 लाख रुपये तक की छूट का फायदा मिल सकता है, लेकिन छूट 1.50 लाख रुपये की सीमा के अंदर ही होनी चाहिए और इसके लिए सेक्शन 80सीसीडी(1बी) लाया गया है। इस नए सेक्शन के तहत 50,000 रुपये की अतिरिक्त छूट मिलेगी और ये छूट 80सी की छूट से अलग होगी।   


वीडियो देखें