Moneycontrol » समाचार » निवेश

फंड हाउसेज का एफएमपी पर जोर

प्रकाशित Thu, 26, 2015 पर 15:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मार्च महीने की डिमांड को पूरा करने के लिए फंड हाउसेज का पूरा जोर एफएमपी यानि फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान्स पर है।
म्युचुअल फंड्स 31 मार्च को वित्त वर्ष खत्म होने से पहले एफएमपी लॉन्च कर रहे हैं। दरअसल, निवेशक ऊंची दरों और बेहतर टैक्स टैक्स फायदे दिलाने वाले डेट उत्पादों में पैसे लगाना चाहते हैं।


इसी को देखते हुए पिछले कुछ दिनों में रिलायंस, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल, एसबीआई, यूटीआई और 3 साल और उससे ज्यादा अवधि के कम से कम 6 एफएमपी लॉन्च हुए हैं। चूंकि एफएमपी तुरंत ही अपने पैसे निवेश कर देते हैं, ऐसे में निवेशकों के लिए ब्याज दर जोखिम कम होता है। साथ ही, एफएमपी में इनकम फंड या गिल्ट फंड के मुकाबले कम उतार-चढ़ाव होता है। ऐसे में डिस्ट्रीब्यूटर मानते हैं निवेशक एफएमपी पर 8.25 फीसदी से 9 फीसदी के बीच कमाई कर सकते हैं।


फंड हाउस का फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान (एफएमपी) लाने पर जोर है। हाल में 3 साल और ज्यादा अवधि के 6 एफएमपी लॉन्च हुए हैं। एफएमपी क्लोज एंडेड डेट स्कीम होती है। रकम का निवेश फिक्स्ड इन्कम सिक्योरिटीज में होता है। इनका एक्सपेंस रेश्यो 0.25-1 फीसदी के बीच होता है। फंड हाउस स्कीम की इंडिकेटिव रिटर्न बताते हैं और स्कीम की अवधि 1 महीने से 3 साल की होती है।


वीडियो देखें