Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरु: आईटीआर फॉर्म स्पेशल

प्रकाशित Sat, 18, 2015 पर 16:50  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

लंबे इंतजार के बाद सरकार ने हालही में नया इनकम टैक्स रिटर्न नोटिफाइ कर दिया है यानि अब इंडिव्युअल और एचयूएफ वित्तवर्ष 2014-15 के लिए रिटर्न फाइल कर सकते हैं। नया आईटीआर फॉर्म है तो कई सारे नए सवाल भी आपके मन में जरुर ऊठ रहे होंगे। आज हम टैक्स गुरु में लेकर आए है आईटीआर फॉर्म स्पेशल, जहां फॉर्म से जुड़े आपके सभी सवालों के जवाब देंगे टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया


टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया के मुताबिक अगर स्टॉक मार्केट से शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन होता है तो आईटीआर 2 में रिटर्न भरना होगा। यदि सालाना इनकम 75000 रु है तो रिटर्न भरने की जरुरत नहीं है। लेकिन अगर फिर भी रिटर्न भरना चाहते है तो आईटीआर 1-आईटीआर 2 में भरें। आईटीआर 4-आईटीआर 4एस बिजनेस से इनकम वालों के लिए होता है। ट्युशन में इनकम, अन्य स्त्रोत से आय मानी जाती है। 


सुभाष लखोटिया का कहना है कि नियम के मुताबिक आईटीआर फॉर्म में सभी बैंक खातों की जानकारी देना जरुरी होगा। वहीं ज्वाइंट खातों की भी जानकारी जरुर देनी चाहिए। इंटर्नशिप के दौरान माह 15,000 रु की तनख्वाह मिली और कंपनी ने टीडीएस भी काटा है, तो इसे आप आईटीआर फॉर्म 4 में दिखाकर रिफंड ले सकते हैं। हालांकि आईटीआर फॉर्म 4 अभी नोटिफाइ नहीं हुआ है।


वाडियो देखें