Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस की समझ: क्या है एनडाउमेंट पॉलिसी

प्रकाशित Fri, 24, 2015 पर 16:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फाइनेंशियल प्लानिंग का एक जरूरी हिस्सा होता है बीमा यानी इंश्योरेंस। लेकिन इस बारे में आम लोगों में जानकारी कम है। इंश्योरेंस क्यों जरूरी है, क्यों लेना चाहिए इंश्योरेंस, किस तरह का प्लान चुनें। इन्हीं सभी सवालों के जवाब देने के लिए हमारे साथ हैं फाइनेंशियल प्लानर अर्णव पंड्या।


बहुत सारे लोगों को लगता है कि वे पॉलिसी में तय वक्त से ज्यादा जिएंगे। इसलिए टर्म प्लान में दिया गया प्रीमियम उन्हें धन की बरबादी लगता है। इस सोच को ध्यान में रखते हुए बीमा कंपनियां एनडाउमेंट पॉलिसी पेश करती हैं। क्या है एनडाउमेंट पॉलिसी और इससे जुड़ी किन बातों का आपको ख्याल रखना चाहिए आइए समझते हैं अपने एक्सपर्ट से।


एनडाउमेंट पॉलिसी में इंश्योरेंस के साथ ही बचत का भी फायदा मिलता है। इसके तहत पॉलिसी टर्म के दौरान मृत्यु होने पर नॉमिनी को बीमा राशि मिलती है और पॉलिसी टर्म के बाद जीवित रहने पर व्यक्ति को एकमुश्त राशि मिलती है।


एनडाउमेंट पॉलिसी और टर्म प्लान में खास अंतर ये है कि एनडाउमेंट पॉलिसी में पॉलिसी टर्म के बाद जीवित रहने पर व्यक्ति को एकमुश्त राशि मिलती है, जबकि टर्म प्लान में पॉलिसीधारक को जिंदा होने पर कोई रिटर्न नहीं मिलता है।


चूंकि एनडाउमेंट पॉलिसी में बचत और रिटर्न दोनों का प्रावधान होता है, इसलिए इसमें प्रीमियम ज्यादा होता है। एनडाउमेंट पॉलिसी में मिलने वाला रिटर्न पॉलिसी लॉन्च के समय और निवेश के माहौल पर निर्भर करता है।


वीडियो देखें