Moneycontrol » समाचार » निवेश

पहला कदमः कैसे हासिल करें फाइनेंशियल लक्ष्य

प्रकाशित Sat, 29, 2015 पर 13:42  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फाइनेंशियल लिटरेसी को लेकर सीएनबीसी-आवाज की खास पेशकश पहला कदम में इस बार हम बात कर रहे हैं फाइनेंशियल गोल्स यानि लक्ष्य की। फाइनेंशियल लक्ष्य क्या होते हैं, फाइनेंशियल लक्ष्य कैसे तय किए जाते हैं, इसके क्या फायदे हैं और ये हमारी जिंदगी में कितनी अहमियत रखते हैं।


फाइनेंशियल लक्ष्य क्यों जरूरी?


फाइनेंशियल लक्ष्य आपको पैसे का सही इस्तेमाल करना सिखाता है और पैसे के इस्तेमाल की सही प्लानिंग में मददगार साबित होता है। निवेश की मॉनिटरिंग करना सिखाता है। लेकिन हर फाइनेंशियल लक्ष्य के लिए अलग प्लान होना जरूरी है। लक्ष्य तय हो तो निवेश विकल्प चुनना आसान होता है। फाइनेंशियल प्लानिंग से नफा-नुकसान समझने में मदद मिलती है।


अगर आपका छोटी अवधि के लिए फाइनेंशियल लक्ष्य है तो पैसे लिक्विड फंड, फिक्स्ड डिपॉजिट या शॉर्ट टर्म म्युचुअल फंड में लगाएं। अगर लंबी अवधि का लक्ष्य है तो लॉन्ग टर्म इक्विटी और रियल एस्टेट में पैसा लगा सकते हैं।


कैसे हों आपके फाइनेंशियल लक्ष्य


आपके फाइनेंशियल लक्ष्य स्मार्ट होने चाहिए। फाइनेंशियल लक्ष्य को लेकर समझ साफ होनी चाहिए और लक्ष्य ऐसा होना चाहिए कि जिसे मापा सके। लक्ष्य ऐसा होना चाहिए जो हासिल हो सके और लक्ष्य प्रैक्टिकल होना चाहिए। लक्ष्य तय समय में पूरा होना चाहिए।


बता दें कि लॉन्ग टर्म फाइनेंशियल लक्ष्य हासिल करने के लिए महंगाई को ध्यान में रखना काफी जरुरी है। तय समय में महंगाई का अंदाजा लगा कर फाइनेंशियल प्लानिंग करना चाहिए। महंगाई का सही अंदाजा लगाना थोड़ा मुश्किल है, लेकिन अपने अनुभव और महंगाई दर के हिसाब से अंदाजा लगा कर फाइनेंशियल प्लानिंग करें।


लक्ष्य कैसे तय करें


फाइनेंशियल लक्ष्य तय करने के लिए जरूरी बातों की लिस्ट बना लें और फिर भविष्य को ध्यान में रखकर योजना बनाएं। मौजूदा फंड्स के आधार पर लक्ष्य तय करें और लक्ष्य को हासिल करने की समय सीमा रखें। अपनी मौजूदा आर्थिक स्थिति का ख्याल रखें और लक्ष्य तय करने से पहले सभी पहलूओं को देखना जरूरी है।


वीडियो देखें