पहला कदमः पोस्ट ऑफिस निवेश से बचेगा पैसा -
Moneycontrol » समाचार » निवेश

पहला कदमः पोस्ट ऑफिस निवेश से बचेगा पैसा

प्रकाशित Sat, 17, 2015 पर 17:10  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फाइनेंशियल लिटरेसी की जरूरत देश में आज हर छोटे बड़े को है। युवा हों या फिर रिटायर्ड लोग, किसान हो या फिर आंत्रप्रेन्योर, प्राइवेट नौकरी करते हो या सरकारी, हर किसी के लिए जरूरी है की वो मेहनत मशक्कत से जो पैसा कमा रहे हैं उसे बचाएं ही नहीं बढ़ाएं भी और सीएनबीसी आवाज इसी मुहिम में लगा है। हम चाहते हैं की हर कोई देश के फाइनेंशियल सिस्टम से जुड़ जाए। सीएनबीसी आवाज़ पर इस खास डिप्लोमा कोर्स में पिछले हफ्ते हमने आपको इलेक्ट्रोनिक मनी ट्रांसफर के बारे में समझाया था। आज हम बात करेंगे पोस्टल सेविंग्स के बारे में और जानेंगे ये कितनी फायदेमंद हैं। 


पोस्ट ऑफिस बचत खाता
पोस्ट ऑफिस बचत खाता आम सेविंग्स बैंक अकाउंट जैसा होता है और इसमें आपको पैसा जमा करने और निकालने की सहूलियत मिलती है। डिपॉजिट की अधिकतम सीमा 1 लाख रुपये होती है और इसमें चेक बुक की सहूलियत भी मिलती है। साथ ही बैंकों की तरह ईसीएस फैसिलिटी भी उपलब्ध होती है। पोस्ट ऑफिस सेविंग्स बैंक अकाउंट पर 4 फीसदी ब्याज मिलता है और 10 हजार रुपये तक ब्याज से टैक्स फ्री मिलता है। इस अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस 50 रुपये रखना जरूरी होता है और कम से कम 500 रुपये खाते में होने पर ही चेक बुक मिलेगी। आपको इसमें ज्वाइंट अकाउंट की सहूलियत भी मिल सकती है। हालांकि एक पोस्ट ऑफिस में केवल एक अकाउंट की सुविधा ही आप ले सकते हैं।


पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट
फिक्स्ड डिपॉजिट की तर्ज पर टाइम डिपॉजिट भी होता बै और पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट की अवधि 1 साल, 2 साल, 3 साल और 5 साल की हो सकती है। पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट में समय के चुनाव की आजादी नहीं होती है और टाइम डिपॉजिट के ब्याज पर टैक्स लगता है। इसमें ब्याज दर बदलती रहती है और हर साल स्मॉल सेविंग्स पर ब्याज दर तय होती है।


3 साल के टाइम डिपॉजिट पर 8.4 फीसदी ब्याज दर, 5 साल के टाइम डिपॉजिट पर 8.5 फीसदी ब्याज दर मिलती है। 5 साल के टाइम डिपॉजिट पर 80सी के तहत डिडक्शन होता है। इसमें न्यूनतम डिपॉजिट 200 रुपये का कर सकते हैं। इसमें आपका नगद या चेक से अकाउंट खुल सकता है और दूसरे पोस्ट ऑफिस में अकाउंट ट्रांसफर संभव होता है। एक ही पोस्ट ऑफिस में टाइम डिपॉजिट एक से ज्यादा भी मुमकिन हैं। लेकिन अगर तय अवधि में पैसा नहीं निकाला तो डिपॉजिट अकाउंट ऑटोमैटिक रिन्यू हो जाता है। 1 साल से पहले अकाउंट बंद करने पर सेविंग ब्याज दर लागू हो जाती है।


पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम सबसे लोकप्रिय पोस्ट ऑफिस स्कीम में शुमार है। इस स्कीम से मंथली रिटर्न्स मिलते हैं और इसकी मौजूदा ब्याज दर 8.4 फीसदी होती है। इसमें न्यूनतम निवेश की रकम 1500 रुपये होती है और ये लगातार इनकम चाहने वालों के लिए अच्छी स्कीम है। हालांकि इसमें कम से कम निवेश 5 साल के लिए करना होगा और इसमें ईसीएस के जरिए भी निवेश संभव है। यहां 2 लोगों को ज्वाइंट अकाउंट भी मुमकिन है और जॉइंट अकाउंट पति पत्नी के लिए हो सकता है।


इसमें एक शख्स के अधिकतम निवेश की सीमा 4.5 लाख रुपये है और दो लोग 9 लाख रुपये तक ही निवेश कर सकते हैं। इस स्कीम से हुई आय पर टैक्स लगता है। 1 से 3 साल के भीतर पैसा निकालने पर 2 फीसदी डिस्काउंट मिलता है और 3 साल के बाद निकालने पर 1 फीसदी डिस्काउंट मिलता है।


नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट्स
नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट्स एनएससी के नाम से लोकप्रिय हैं और ये एक निश्चित अवधि का निवेश विकल्प है। इसमें आप 5 और 10 साल की अवधि के लिए निवेशकर सकते हैं और हर 6 महीने में कंपाउंड इंटरेस्ट मिलता है। हालांकि ब्याज मियाद खत्म होने पर ही मिलेगा। हर 6 महीने पर मिलने वाला ब्याज रीइन्वेस्ट होगा और इसका ब्याज दरें भी आकर्षक हैं। 5 साल के एनएससी पर 8.5 फीसदी ब्याज और 10 साल के एनएससी पर 8.8 फीसदी ब्याज मिलता है। उदाहरण के लिए इसमें 100 रुपये डालने पर 5 साल में बढ़कर 151.62 रुपये हो जाएंगे और 100 रुपये 10 साल में बढ़कर 236.6 रुपये हो जाएंगे। इसमें निवेश की अधिकतम सीमा तय नहीं होती है। हालांकि आयकर की धारा 80सी के तहत इनकम पर टैक्स डिडक्शन होता है और इसपर मिलने वाले ब्याज को रीइन्वेस्ट करने पर भी टैक्स लगेगा।


पोस्ट ऑफिस निवेश पर लोगों को नजरिया
आमतौर पर पोस्ट ऑफिस सुरक्षित निवेश माना जाता है और पोस्ट ऑफिस निवेश आसानी से भी हो जाता है। इसमें ईसीएस पेमेंट से आसानी होती है और अलग अलग जरूरतों के लिए अलग अलग इंस्ट्रूमेंट होते हैं। निवेशक पोस्ट ऑफिस निवेश से डेट पोर्टफोलियो तैयार कर सकते हैं जो अच्छे रिटर्न के साथ जोखिम रहित निवेश हो सकता है।


अगर आप भी अपने गांव, रेसिडेंशियल सोसायटी, ऑफिस, कॉलेज या स्कूल में जागरुक्ता फैलाना चाहते हैं और हमारी टीम की एक्सपर्ट एडवाईज चाहते हैं, तो हमें लिख सकते हैं फेसबुक पर सीएनबीसी आवाज़ के पेज पर या फिर हमारी वेबसाइट www.pehlakadam.in पर भी अपना संदेश छोड़ सकते हैं।


वीडियो देखें