Moneycontrol » समाचार » निवेश

आवाज़ इंवेस्टर क्लब: बनाएं बाजार की रणनीति

प्रकाशित Sat, 28, 2015 पर 13:52  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आवाज़ इंवेस्टर क्लब देश का ऐसा पहला इंवेस्टर क्लब जहां आप बाजार के दिग्गजों से रुबरु होते है, साथ ही बाजार की रणनीति जानने और अपनी निवेश से जुड़ी समस्याएं सुलझाने का भी मौका मिलता है वो भी बिना किसी एंट्री फी के। आवाज़ इंवेस्टर क्लब में आज दर्शकों के सवालों का जवाब देंगे मार्केट एक्सपर्ट अजय बग्गा साथ ही एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वी के शर्मा।


अजय बग्गा की बाजार, शेयरों पर सलाह


अजय बग्गा के मुताबिक जीडीपी बढ़ाने और कारोबार आसान बनाने में जीएसटी अहम रोल निभाएगा और इससे तमाम तरह के टैक्स से छुटकारा मिलेगा। जीएसटी से एफएमसीजी, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स कंपनियों को फायदा होगा और सर्विस सेक्टर की कंपनियों को फायदा होगा। जीएसटी पास होने तक गति का शेयर है जो खरीदा जा सकता है और इसमें तेजी आ सकती है।


फेड अगर दरें बढ़ाता है तो भारतीय बाजार में इसका ज्यादा असर नहीं पड़ेगा क्योंकि फेड का असर बाजार में पड़ चुका है। 2015 में 15 बिलियन डॉलर भारतीय बाजार में आए हैं और इक्विटी में पैसा बाहर निकला है। फेडरल रिजर्व धीरे-धीरे रेट कट कर रहा है और इससे घरेलू बाजारों को घबराने की बात नहीं है। अजय बग्गा के मुताबिक निफ्टी में पैसा बनेगा लेकिन म्युचुअल फंड और ईटीएफ निवेश के लिए बेहतर लग रहे हैं। निफ्टी में पैसा बनाने के लिए टाइम, ट्रेनिंग, टेम्परामेंट जरूरी है।


वी के शर्मा की बाजार, शेयरों पर सलाह


वी के शर्मा के मुताबिक बाजार में निवेश करना है तो कम उम्र में निवेश शुरू करना अच्छी बात होती है। शुरुआत में बाजार में लार्जकैप में निवेश करें और निफ्टी बीस में पैसा लगाएं। इसका लंबी अवधि में फायदा मिलेगा। जीएसटी के आने की खबर से जो शेयर भागे हैं तो ऐसे शेयर खरीदें लेकिन उनकी चाल पर नजर बनाए रखें। जीएसटी का पूरा प्रभाव देखने के लिए लंबी अवधि के लिए इन शेयर में निवेश करें। फाइनेंशियल सेक्टर में ज्यादा पैसा नहीं लगाएं। हालांकि बैंक ऑफ बड़ौदा का शेयर जीएसटी को ध्यान में रखकर अच्छा लग रहा है। बैंक ऑफ बड़ौदा में निगेटिव सरप्राइज खत्म हो गया है। हालांकि बैंक ऑफ इंडिया में बिकवाली करने की सलाह है और जिन निवेशकों को रिलायंस कैपिटल में मुनाफा हो रहा है उन्हें इसमें मुनाफावसूली करने की सलाह है।


वी के शर्मा के मुताबिक सुजलॉन में निवेश अच्छा है और इसमें चिंता की बात नहीं है। सुजलॉन की वर्किंग कैपिटल की दिक्कत दूर हो गई है और जिनके पास सुजलॉन का शेयर है उन्हें होल्ड करना चाहिए। सुजलॉन का शेयर 3 साल के लिए होल्ड कीजिए तो अच्छी कमाई हो सकती है क्योंकि विंड एनर्जी और रिन्यूएबल एनर्जी पर सरकार का फोकस होने से ऐसी कंपनियों को फायदा होगा।


वीडियो देखें