प्रॉपर्टी इंश्योरेंसः रखें अपने आशियाने को सुरक्षित -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

प्रॉपर्टी इंश्योरेंसः रखें अपने आशियाने को सुरक्षित

प्रकाशित Sat, 09, 2016 पर 14:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अपनी हैल्थ और जिंदगी के लिए तो इंश्योरेंस कवर आप ले लेते हैं, लेकिन आपके सपनों का घर, आपके आशियाने, के लिए इंश्योरेंस शायद किसी प्राकृतिक आपदा के बाद ही याद आता है। पिछले 3 सालों में देश ने तीन बढी बाढ़ का सामना किया है। 2013 में उत्तराखंड 2014 में काश्मीर और 2015 में चेन्नई। आंकडों का माने तो होम इंश्योरेंस पूरा इंश्योरेंस का केवल 1 फीसदी हैं। मतलब लोगों में इस को लेकर जागरूकता ही नहीं है और इसी लिए आज योर मनी का फोकस होगा प्रॉपर्टी इंश्योरेंस पर है। आइए इसकी बारीकियां समझते है पॉलिसीबाजार डॉटकॉम के को-फाउंडर और सीईओ यशीष दहिया से।


पॉलिसीबाजार डॉटकॉम के को-फाउंडर और सीईओ यशीष दहिया का कहना है कि प्रॉपर्टी इंश्योरेंस आपकी प्रॉपर्टी को सुरक्षा देने का जरिया है। प्रॉपर्टी इंश्योरेंस बाढ़, भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं से हुए नुकसान को कवर करता है। इसके अलावा निजी उपकरण के लिए भी इंश्योरेंस उपलब्ध है। प्रॉपर्टी इंश्योरेंस में बिल्डिंग को हानी पहुंचना, किसी भी कारण से घर के ढांचे को नुकसान होना कवर होता है। साथ ही इसमें घर में रखे सामान का भी इंश्योरेंस किया जाता है जैसे कि इलेक्ट्रॉनिक्स, फर्नीचर। प्रॉपर्टी इंश्योरेंस में क्लैम दो तरह से मिलता है। इंश्योरंस क्लेम प्रॉपर्टी के दोबारा बनाने की वैल्यू पर या मुआवजे की राशि पर मिलता है।


प्रॉपर्टी इंश्योरेंस में प्रॉपर्टी की वैल्यू और घर की चीजों की वैल्यू को ध्यान में रखकर सम अश्योर्ड तय करना चाहिए। कम प्रीमियम के चक्कर में नहीं रहना चाहिए। प्रॉपर्टी से जुडी तमाम जानकारियां इंश्योंरेंस कंपनी को देनी चाहिए। खुद का स्वतंत्र घर हो तो पूरा कवर लिया जा सकता है। फ्लैट या अपार्टमेंट के लिए, अगर बिल्डिंग इंश्योर्ड है, तो कन्टेट ओनली इंश्योरेंस लेना चाहिए, जिसमें आपके घर का सामान कवर होगा। ज्वेलरी कवर, सेंधमारी कवर, थर्ड-पार्टी लायबिलिटी कवर और रेंटल कवर भी लिया जा सकता है। अगर आप रेंट पर रह रहे हों तो हाउसहोल्ड इंश्योरेंस खरीद सकते हैं।


वीडियो देखें