योर मनी: यूलिप में निवेश पर लगेंगे कौन से चार्ज -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनी: यूलिप में निवेश पर लगेंगे कौन से चार्ज

प्रकाशित Wed, 17, 2016 पर 12:46  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जिंदगी के जोखिमों से निपटने के लिए इंश्योरेंस जरूरी है। योर मनी में यहां बात होगी इंश्योरेंस से जुड़ मुद्दों की। इन मुद्दों पर अपनी राय देने के लिए यहां हमारे साथ हैं ओए पैसा के फाउंडर उदय धूत।


लेकिन हम सबसे पहले बात करेंगे यूलिप की और जानेंगे की यूलिप में निवेश पर कौन कौन से  चार्ज लगेंगे और यूलिप में निवेश कितना फायदेमंद है। यूलिप में लगने वाले खर्च की बात करें तो इसमें प्रीमियम अलोकेशन चार्ज लगता है जो यूनिट जारी करने पर लगने वाला चार्ज है। इसके अलावा इसमें मोर्टेलिटी चार्ज यानिइंश्योरेंस कवर की लागत, फंड मैनेजमेंट फीस यानि फंड की देखरेख में लगने वाला खर्च, सरेंडर चार्ज यानि समय से पहले या तय समय पर यूनिट से निकलने पर लगने वाला चार्ज, फंड स्विचिंग चार्ज यानि एक फंड से निकलकर दूसरे फंड में निवेश पर लगने वाला चार्ज और सर्विस टैक्स यानि प्रीमियम के एक हिस्से पर लगने वाला सर्विस टैक्स लगता है।


उदय धूत ने कहा कि यूलिप एक मार्केट लिंक्ड इंस्ट्रमेंट हैं जिसकी शुरुआती लागत ज्यादा होती है। अगर लोग संतुलित नजरिया लेकर चलें तभी 5-6 साल में यूलिप में अच्छे पैसे बना सकते हैं। लेकिन इसके लिए ये भी जरूरी है कि बाजार अच्छा चले। लेकिन अगर बाजार अच्छा नहीं चलता तो निवेशक को बाजार और लागत दोनों की मार सहनी पड़ती है।


अब बात करते हैं एसएमई की और जानतें हैं कि एसएमई के लिए कौन-कौन से इंश्योरेंस जरूरी हैं। उदय धूत के मुताबिक एसएमई के लिए आग, बाढ़, भूकंप से नुकासान के लिए कवर। मशीन, ऑफिस की टूट-फूट के लिए कवर, चोरी के लिए कवर, ग्रुप पर्सनल एक्सीडेंट कवर, ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस कवर लेना जरूरी होता है।


वीडियो देखें