Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- फंडामेंटल

ऐसा नहीं देखा होगा कभी कमाल, ये शेयर मचा देंगे धमाल

प्रकाशित Thu, 20, 2016 पर 12:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार की आगे की चाल और दिशा पर बात करते हुए एचआरबीवी क्लायंट सोल्यूशंस के टी एस हरिहर ने कहा कि बैंकिंग सेक्टर में निवेश का रुझान प्राइवेट बैंकों की तरफ से मुड़कर सरकारी बैंकों की तरफ जा सकता है। इसकी वजह ये हैं कि इकोनॉमी में सुधार के साथ ही अब भारतीय कंपनियों का फोकस कर्ज चुकाने के तरफ जा रहा है। जिससे बड़े सरकारी बैंकों के साथ ही आईसीआईसी, एक्सिस जैसे बैंको की एनपीए की समस्या में सुधार आएगा और पूरे बैंकिंग सेक्टर को फायदा होगा। के टी एस हरिहर के मुताबिक आगे बैंको में तेजी की उम्मीद है ऐसे में एसबीआई, बैंक ऑफ बड़ौदा में निवेश की सलाह होगी।


टी एस हरिहर का कहना है कि स्पेशियलिटी केमिकल, मिडकैप आईटी कंपनियों और लॉजिस्टिक्स कंपनियों में निवेश के काफी अच्छे मौके हैं जहां अच्छे पैसे बन सकते हैं।  स्पेशियलिटी केमिकल्स में एक बहुत बड़ा इंटरनेशनल मार्केट डिमांड बन रहा है जिसका असर हमें 1-2 साल में देखने को मिलेगा। टी एस हरिहर की राय है कि स्पेशियालिटी केमिकल सेक्टर में शारदा क्रॉपकेम, टाटा केमिकल्स में निवेश करके अच्छे पैसे बनाए जा सकते हैं। स्पेशियालिटी केमिकल ऐसा सेक्टर है जहां मिडकैप शेयर काफी अच्छा रिटर्न दे सकते हैं।


टी एस हरिहर के मुताबिक लॉजिस्टिक्स सेक्टर में भी पैसे लगाने के काफी अच्छे मौके हैं। गति, सिकाल लॉजिस्टिक्स और वीआरएल लॉजिस्टिक्स ऐसे मिड कैप लॉजिस्टिक्स शेयर हैं जिनको जीएसटी से काफी फायदा होने वाला है।


टी एस हरिहर का मानना है कि मिडकैप आईटी कंपनियों में भी काफी अच्छे मौके हैं। दूसरी तिमाही के नतीजों पर नजर डालें तो एनआईआईटी और मास्टेक के नतीजे काफी अच्छे रहे हैं। आगे मिडकैप आईटी में री-रेटिंग होने की पूरी उम्मीद है।


दिग्गज आईटी कंपनियों पर बात करते हुए के टी एस हरिहर ने कहा कि विप्रो में दबाव जारी रहने की आशंका है। लेकिन टीसीएस, टेक महिंद्रा में निवेश किया जा सकता है।