Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

यूरोप में भी प्लांट लगाने की योजनाः एलटी फूड्स

प्रकाशित Wed, 07, 2016 पर 14:05  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज नो योर कंपनी में हमारे रडार पर है एलटी फूड्स। एलटी फूड्स, बासमती चावल और ऑर्गेनिक फूड का कारोबार करती है। कंपनी की दुनिया के 65 देशों में मौजूदगी है। एलटी फूड्स ने फ्यूचर ग्रुप के साथ भी करार किया है और इस करार के बाद कंपनी के शेयर में उछाल आया है। वहीं, पिछले महीने एलटी फूड्स ने जापान की स्नैक्स कंपनी से करार किया। एलटी फूड्स की जापानी कंपनी के साथ भारत में स्नैक्स बनाने की योजना है। हरियाणा के सोनीपत प्लांट में स्नैक्स उत्पादन होगा।


एलटी फूड्स के ज्वाइंट एमडी, अश्वनी अरोड़ा ने बताया कि फ्यूचर ग्रुप के साथ करार के तहत सोना-मसूली चावल का उत्पादन किया जाएगा। इस चावल की मार्केटिंग दावत ब्रांड के तहत की जाएगी। साथ ही इसकी मार्केटिंग फ्यूचर ग्रुप के ब्रांड के तहत भी की जाएगी। इस ज्वाइंट वेंचर से वित्त वर्ष 2018 में 125-150 करोड़ रुपये की आय का अनुमान है।


अश्वनी अरोड़ा ने ये भी बताया कि जापानी कंपनी के साथ ज्वाइंट वेंचर में एलटी फूड्स की 51 फीसदी हिस्सेदारी रहेगी। जापानी कंपनी कमिडा जापान में राइस स्नैक्स के बाजार में मार्केट लीडर है। कंपनी की रिसर्च में ये पाया गया है कि जापानी स्नैक्स को भारत में काफी पसंद किया जाएगा। अगले साल अप्रैल या मई में जापानी स्नैक्स को बाजार में लाने की योजना है। शुरुआती दौर में जापानी स्नैक्स को इंपोर्ट किया जाएगा।


अश्वनी अरोड़ा के मुताबिक दिल्ली के पास स्थित प्लांट में ही राइस स्नैक्स की मैन्युफैक्चरिंग की जाएगी। दिल्ली प्लांट में इस ज्वाइंट वेंचर की ओर से कैपेक्स के लिए 1 करोड़ डॉलर का निवेश किया जाएगा। इस ज्वाइंट वेंचर के तहत जापानी कंपनी को रॉयल्टी पेमेंट नहीं किया जाएगा। राइस स्नैक्स ब्रांड के काफी कामयाब होने की उम्मीद है। साथ ही एलटी फूड्स की यूरोप में भी प्लांट लगाने की योजना है।