नोटबंदी के बाद राहत, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स में ग्रोथ -
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

नोटबंदी के बाद राहत, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स में ग्रोथ

प्रकाशित Thu, 09, 2017 पर 16:26  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नोटबंदी के बाद कंज्यूमर ड्यूरेबल्स सेक्टर के बिक्री में 30-40 फीसदी की गिरावट देखी गई थी, लेकिन बढ़ते हुए डिमांड के साथ अब कंज्यूमर ड्यूरेबल्स के कारोबार में फिर से ग्रोथ की उम्मीद की जा रही हैं। यही वजह है कि कंपनियों ने नए प्रोडक्ट्स लॉन्च करना भी शुरू कर दिया है।


नोटबंदी के चलते कंज्यूमर ड्यूरेबल्स कंपनियों को 30 फीसदी तक का घाटा झेलना पड़ा था, लेकिन अब इंडस्ट्री में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद की जा रही है। डिमांड में तेजी के चलते पिछले एक महीने में कंज्ययूमर ड्यूरेबल्स कंपनियां हर सेगमेंट में अपने प्रोडक्ट्स लॉन्च कर रही हैं।


हाल ही में जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक लगातार बढ़ते डिमांड के चलते 2020 तक कंज्यूमर ड्यूरेबल्स मार्केट 20 मिलियन डॉलर तक पहुंच सकता है। वहीं इंडस्ट्री जो 2015 में 1.07 ट्रिलियन डॉलर की थी, वो साल 2021 तक बढ़कर 1.92 ट्रिलियन तक पहुंचने की उम्मीद कर रही है। साथ ही भारत में इस साल के अंत तक कपंनियां 20-30 फीसदी की इंडस्ट्री ग्रोथ की उम्मीद कर रही हैं।


रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन में सरकारी निवेश और जीएसटी ने भी आने वाले समय में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद बढ़ाई है। गर्मी बढ़ी तो फ्रिज, एसी की बिक्री बढ़ गई। इस तरह के कई दूसरे फैक्टर भी इंडस्ट्री को सहारा दे देते हैं। नोटबंदी के बाद हो रहे घाटे के बाद अब कंज्यूमर ड्यूरेबल्स कंपनियां फिर से पटरी पर आते दिख रही हैं। साथ ही कंपनियों का दावा है कि बढ़ते डिमांड के चलते जल्द ही घाटे की भरपाई भी कर लेंगी।