Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » आईपीओ खबरें

आगे बेहतर ग्रोथ की उम्मीदः सीएल एजुकेट

प्रकाशित Mon, 20, 2017 पर 14:16  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीएल एजुकेट का आईपीओ खुल गया है और ये इश्यू 22 मार्च तक खुला रहेगा। सीएल एजुकेट का प्राइस बैंड 500-502 रुपये और लॉट साइज 29 शेयर का है। आईपीओ के जरिए कंपनी की योजना 239 करोड़ रुपये जुटाने की है। एजुकेशन सेक्टर से जुड़ी ये कंपनी टेस्ट प्रिपरेशन और वोकेशनल ट्रेनिंग देने का काम करती है। एजुकेशन प्रोडक्ट, सर्विस और कंटेंट का काम करती है। कंपनियों को भी ट्रेनिंग सेवाएं देने का काम भी करती है। देश भर में कंपनी के 150 से ज्यादा टेस्ट प्रिप्रेशन सेंटर हैं। सीएल एजुकेट इंडस वर्ल्ड स्कूल के नाम से स्कूल चलाती है।


सीएनबीसी-आवाज़ से खास बातचीत में सीएल एजुकेट के चेयरमैन और ईडी, सत्य नारायणन आर ने कहा कि अच्छे क्वालिटी के एंकर इन्वेस्टर्स ने कंपनी के आईपीओ में निवेश किया है। डीएसपी ब्लैकरॉक, एचडीएफसी म्युचुअल फंड, सुंदरम म्युचुअल फंड, आईसीआईसीआई लोंबार्ड और आईसीआईसीआई लाइफ समेत 9 एंकर इन्वेस्टर्स ने निवेश किया है।


सत्य नारायणन आर ने बताया कि सीएल एजुकेट तमाम स्पर्धा परीक्षाओं के एंट्रेंस टेस्ट के लिए भी तैयारी कराती है। कंपनी मोबाइल प्लेटफॉर्म पर भी मौजूद है। एजुकेशन सर्विस प्रोवाइडर के लिए टेक्नोलॉजी काफी अहम हो गई है। कंपनी की आय में 60 फीसदी हिस्सा टेस्ट प्रिप्रेशन का है, जबकि 35 फीसदी का हिस्सा पब्लिशिंग का है। आईपीओ के बाद कंपनी में प्रोमोटरों की हिस्सेदारी 48 फीसदी हो जाएगी, जो फिलहाल 61 फीसदी के आसपास है।


सत्य नारायणन आर के मुताबिक लंबी अवधि में सीएल एजुकेट के पूरी तरह से कर्ज मुक्त होने की उम्मीद है। आगे अधिग्रहण पर भी फोकस रहेगा। सरकारी नीतियों से चुनौतियां का सामना करना पड़ता है, लेकिन इन नीतियों से मुनाफा कमाने का भी मौका मिलता है। नई स्पर्धा परीक्षा के एलान से सीएल एजुकेट को फायदा होगा। कंपनी के कारोबार पर नोटबंदी का असर जरूर देखने को मिला है, लेकिन ये अस्थायी दौर था और अब हालात सुधर रहे हैं।