Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

बाजार में तेज गिरावट, अब कहां पैसा लगाएं

प्रकाशित Thu, 13, 2017 पर 16:35  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

घरेलू बाजारों में आज तेज गिरावट के साथ कारोबार देखने को मिला है। सेंसेक्स और निफ्टी में 0.5 फीसदी से ज्यादा की कमजोरी देखने को मिली है। कमजोरी के इस माहौल में निफ्टी 9150 के नीचे तक फिसल गया, जबकि सेंसेक्स में 200 अंकों तक की गिरावट देखने को मिली। आज के कारोबार में निफ्टी ने 9144.95 तक गोता लगाया, जबकि सेंसेक्स 29442.26 तक टूट गया। अंत में निफ्टी 9150 के आसपास बंद हुआ है, जबकि सेंसेक्स 29450 के ऊपर बंद हुआ है।


ट्रेडबुल्स ग्रुप के चीफ इन्वेस्टमेंट एडवाइजर राजेन शाह का कहना है आईटी शेयरों में खरीदारी के मौके नजर आ रहे है, इस सेक्टर में टीसीएस टॉप पिक होगी। इंफोसिस का शेयर वैल्यूएशन के लिहाज से काफी सस्ता लग रहा है और फिलहाल 14 के पीई पर मिल रहा है। मैनेजमेंट के मुताबिक कंपनी अपनी पेआउट पॉलिसी सुधारेगी और इसे 50-70 फीसदी करेगी। अगर 3 साल का नजरिया है तो इंफोसिस अच्छा डिविडेंड और एप्रिसिएशन देगा। लंबी अवधि के लिहाज से इंफोसिस में निवेश करना चाहिए, इसमें कोई चिंता की बात नहीं है और ना ही ज्यादा गिरावट की आशंका है।


राजेन शाह के मुताबिक ऑयल एंड गैस कंपनियों के शेयर काफी बढ़ चुके है, इनसे फिलहाल दूर रहने की राय होगी। सरकार मेगा ऑयल कंपनी बनाएगी तो उससे भी एमआरपीएल, ओएनजीसी और पेट्रोनेट एलएनजी में काफी अच्छी तेजी आएगी। टॉप ट्रेडिंग पिक्स के लिहाज से एमएंडएम फाइनेंस, रिलायंस कैपिटल पर दांव लगाने की सलाह होगी। एमएंडएम फाइनेंस की 100 फीसदी सब्सिडी रुरल इंडिया पर फोकस करती है तो उसका फायदा कंपनी को मिल सकता है। वहीं रिलायंस कैपिटल का शेयर आनेवाले दिनों में 725-750 रुपये तक जाएगा। मेटल सेक्टर में फिलहाल निवेश के मौके नजर नहीं आ रही है। मेटल सेक्टर काफी अस्थिर है और इसमें बढ़त धीमी पड़ गई हैं।


आनंद राठी के टेक्निकल एंड डेरिवेटिव हेड जय ठक्कर के मुताबिक स्टॉक स्पेसिफिक टीसीएस अच्छा परफॉर्म कर सकता है। हालांकि इंफोसिस अगर दोबारा 900 रुपये से ऊपर रिवर्स होता है तो इसमें खरीदारी कर सकते है, अन्यथा आईटी शेयरों से दूर ही रहें। उज्जीवन फाइनेंस में मध्यम से लंबी अवधि के लिहाज से हर गिरावट पर खरीदारी की जा सकती है, इसके चार्ट काफी आकर्षक है। लेकिन ट्रेडिंग के लिहाज से एनबीएफसी कंपनियों में निवेश की सलाह नहीं होगी। जेएसडब्ल्यू स्टील से दूर रहने की राय होगी, ज्यादा क्लैरिटी नहीं है, इसमें उछाल पर आने पर निकल सकते हैं।   


यस सिक्योरिटीज की सीनियर वीपी-रिसर्च निताशा शंकर का कहना है कि अगर लंबी अवधि के नजरिए से 1-1.5 साल तक बने रह सकते है और रिस्क उठा सकते हैं तो इंफोसिस और टीसीएस दोनों शेयर वैल्यूएशन के लिहाज से काफी आकर्षक लगते हैं। लेकिन अगर छोटी अवधि की बात करें तो 3-6 महीने में काफी ऐसी मुश्किलें आ सकती है जिससे आईटी शेयर ऊपर ना जा पाएं। निवेशकों को बाजार में गिरावट पर खरीदारी का मौका मिल सकता है, लेकिन इसे लंबे अवधि के लिहाज से ही देखना चाहिए। मिडकैप-स्मॉलकैप एफएमसीजी कंपनियों और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स कंपनियों में पैसा लगाने की राय होगी। कंज्यूमर ड्यूरेबल्स सेक्टर में अच्छी तेजी देखने को मिल सकती है।