इंडियाबुल्स रियल की रीस्ट्रक्चरिंग का फैसला -
Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

इंडियाबुल्स रियल की रीस्ट्रक्चरिंग का फैसला

प्रकाशित Mon, 17, 2017 पर 13:18  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

इंडियाबुल्स ग्रुप के शेयरों में आज शानदार तेजी देखी जा रही है। दरअसल ये तेजी इंडियाबुल्स रियल एस्टेट के कारोबार की रीस्ट्रक्चरिंग के एलान की वजह से आई है। इंडियाबुल्स रियल की रीस्ट्रक्चरिंग योजना के तहत कमर्शियल एसेट कारोबार के लिए होल्डिंग कंपनी बनाई जाएगी। कंपनी का कमर्शियल और लीजिंग कारोबार इंडियाबुल्स कमर्शियल में रहेगा। होल्डिंग कंपनी डीमर्ज होगी या फिर इसमें स्ट्रैटेजिक निवेशक लाया जाएगा। डीमर्जर या अलग लिस्टिंग कराने पर अगले कुछ महीनों में विचार किया जाएगा। इंडियाबुल्स कमर्शियल लीज पर देने के लिए ऑफिस डेवलप करेगी।


डीमर्जर के बाद अलग लिस्टिंग की भी कंपनी की योजना है। होल्डिंग कंपनी के लिए स्ट्रैटेजिक इन्वेस्टर की भी तलाश है। कंपनी का नेटवर्थ 2311 करोड़ रुपये है। होल्डिंग कंपनी पर करीब 3950 करोड़ रुपये का कर्ज होगा। इंडियाबुल्स रियल एस्टेट पर करीब 4395 करोड़ रुपये का कर्ज है। रिस्ट्रक्चरिंग एलान के बाद कंपनी का शेयर 13 फीसदी ये ज्यादा उछला है।


इंडियाबुल्स रियल एस्टेट के ज्वाइंट एम विशाल दमानी ने सीएनबीसी-आवाज़ के साथ बात करते हुए कहा कि इस रिस्ट्रक्चरिंग से कंपनी की कार्यक्षमता में विस्तार होगा जिसके कंपनी के रेवेन्यू में बढ़त देखने को मिलेगी।