Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

सपाट रही बाजार की चाल, अब क्या करें खरीदार

प्रकाशित Wed, 19, 2017 पर 16:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज घरेलू बाजार दिनभर सीमित दायरे में ही नजर आए। हालांकि कारोबारी सत्र के आखिरी आधे घंटे में बाजार में थोड़ा जोश नजर आया। आखिरी आधे घंटे के दौरान आई खरीदारी के चलते ही अंत में सेंसेक्स और निफ्टी सपाट होकर बंद हुए। सेंसेक्स 29350 के आसपास बंद हुआ है, जबकि निफ्टी 9100 के ऊपर बंद होने में कामयाब रहा।


जॉएंडर कैपिटल सर्विसेज के रिसर्च हेड अविनाश गोरक्षकर का कहना है कि बाजार के अनुमान के अनुसार ही इंडसइंड बैंक के नतीजे आये है। हालांकि इसके नंबर को देखा जाएं तो प्रोविजिनिंग में बढ़ोतरी हुई है। वहीं एसेट क्वालिटी में कंपनी ने काफी शानदार प्रदर्शन किया है।  इंडसइंड बैंक के नतीजे के बाद अब यस बैंक के नतीजे भी उम्मीद से बेहतर आने का अनुमान है।


जिस प्रकार से डिजिटाइजेशन की प्रक्रिया की शुरुआत की गई है उससे सारे एमआरओ प्लेयर्स और मीडिया प्लेयर्स आनेवाले समय में मुनाफा कमा सकती हैं। लिहाजा मीडिया सेक्टर में लंबी अवधि का नजरिया रख कुछ चुनिंदा शेयर में खरीदारी की जा सकती है। सीमेंट सेक्टर में इंडिया सीमेंट की बात करें तो आनेवाले साल कंपनी के लिए बेहतर होने की उम्मीद है। हालांकि कंपनी के बैलेंसशीट पर डेट काफी कम है। इनके नतीजे बेहतर आने की उम्मीद है।


शालिमार पेंट्स में कोई री-स्ट्रक्चरिंग की खबर हो सकती है जिसके कारण इसमें काफी तेजी देखने को मिल रही है। अगर ऐसा होता है तो इसमें आनेवाले समय में अच्छे रिटर्न मिल सकते है। नाल्को में मौजूदा समय में दूर रहने की सलाह होगी। क्योंकि इसके मार्जिन कमजोर रहने की उम्मीद है।


मार्केट एक्सपर्ट सर्वेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि टाटा मोटर्स और टाटा मोटर्स डीवीआर ने शेयर बाजार को काफी अंडरपरफॉर्म किया है। अगर चार्ट पैटर्न के लिहाज से देखा जाए तो टाटा मोटर्स के 430-440 रुपये के स्तर पर गिरावट रही है। अगर टाटा मोटर्स का शेयर मौजूदा स्तर को होल्ड करता है तो इसमें 470 रुपये के लक्ष्य देखने को मिल सकते हैं। लिहाजा इसमें शॉर्ट पोजिशन ना बनाने की सलाह होगी।


एनसीसी में 80-85 रुपये के स्तर पर अहम सपोर्ट बना हुआ था लेकिन एनसीसी अपने सपोर्ट लेवल के ऊपरी स्तर पर कारोबर करना में सक्षम रहा है जिसके चलते इसमें तेजी की पूरी संभावनाएं बनी हुई है। लिहाजा मौजूदा निवेशकों को इसमें बने रहने की सलाह होगी। बीते कुछ महीनों से अरबिदों फार्मा अंडरपरफॉर्म कर रहा है। अगर मौजूदा स्तर से 630 रुपये के स्तर को तोड़ता है तो इसमें शॉर्ट करने की सलाह होगी अन्यथा इसमें बने रहें। पेंट्स सेक्टर में एशियन पेंट्स में 15-20 रुपये की उछाल के लिए खरीदारी की जा सकती है।


पावरमायवेल्थ डॉट कॉम के संदीप वागले के मुताबिक अरबिदों फार्मा काफी 700-710 रुपये के ऊपरी स्तर को पार करने में सक्षम नहीं हो रहा है और जब तक यह स्तर नहीं पार करता तब तक 620 रुपये का स्तर भी दिख सकता है।