Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

नोटों की किल्लत दूर करने पर एक्शनः सूत्र

प्रकाशित Thu, 11, 2017 पर 13:24  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पिछले कुछ महीनों से नोटों की चल रही किल्लत जल्द दूर होगी। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक वित्त मंत्रालय ने रिजर्व बैंक से कहा है कि नोटों की मांग कितनी रहने वाली है इसका सटीक आकलन किया जाए और उसके हिसाब से छपाई भी की जाए। महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में नोटों की किल्लत है ये खबर सबसे पहले सीएनबीसी-आवाज ने आपको दी थी।


सूत्रों का कहना है कि वित्त मंत्रालय ने रिजर्व बैंक से जरूरी कदम उठाने को कहा है। वित्त मंत्रालय ने आरबीआई से अगले 5 साल में नोटों की जरूरत का आकलन अभी करने का निर्देश दिया है। 11 अप्रैल को वित्त मंत्रालय में अहम बैठक हुई थी। आरबीआई से भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड और सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड माइनिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया से 6 माह में छपे नोटों का ब्यौरा मांगा गया। सरकार ने आरबीआई को सप्लाई दुरुस्त करने के लिए प्रिंटिंग प्रेस से बेहतर तालमेल के निर्देश दिए हैं। साथ ही प्रिटिंग प्रेस को जरूरत के हिसाब से अपग्रेड करने के निर्देश भी दिए गए हैं।