Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

क्यों सुस्त हुई चाल, कौन से शेयर करेंगे मालामाल

प्रकाशित Thu, 11, 2017 पर 16:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

घरेलू बाजार में आज भी रिकॉर्ड स्तर बने, लेकिन ऊपरी स्तरों पर मुनाफावसूली हावी होने से सारी बढ़त हवा हो गई। आज निफ्टी ने 9450.65 तक दस्तक दी, तो सेंसेक्स 30366.43 तक पहुंचा था। अंत में निफ्टी 30250 के आसपास बंद हुआ है, तो निफ्टी 9420 के करीब बंद हुआ है। दिन के ऊपरी स्तरों से सेंसेक्स ने 10 अंकों से ज्यादा की बढ़त गंवाई, जबकि निफ्टी की करीब 30 अंकों की तेजी गायब हुई है।


एयूएम कैपिटल के रिसर्च हेड राजेश अग्रवाल का कहना है कि सुजलॉन और बिल्ट इन दोनों में मौजूदा समय में इसमें निवेश की सलाह नहीं होगी। क्योंकि इन  दोनों में ही कर्ज को लेकर चिताएं बनी हुई हैं। हालांकि इनमें ट्रेडिंग का नजरिया रख खरीदारी की जा सकती है।


फंडामेटल लिहाज से टाइटन में काफी अच्छी मुमेंट देखने को मिली है। कंपनी ने अपने रीटेल चेन को मजबूत किया है। कंपनी ने गोल्ड बिजनेस सहित अन्य बिजनेस में भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। लिहाजा इसमें खरीदारी करने की सलाह होगी। हालांकि किसी कारणवश इसके नतीजे अनुमान से बेहतर नहीं आते और इसमें गिरावट देखने को मिलती है तो वह बेहतर खरीदारी का मौका होगा।


कल के सत्र में एबीबी इंडिया में नतीजे अनुमान से बेहतर ना  आने के बाद भी तेजी देखने को मिली है। हालांकि ऑर्डर फ्लो के लिहाज से इससे ज्यादा उम्मीद लगाई गई और यही कारण है कि इसमें मुनाफावसूली होती नजर आई है। बीएचईएल में वैल्युएशन के लिहाज से काफी अच्छी तेजी देखने को मिल रही है, इसमें 220-222 रुपये के लक्ष्य के लिए पोजिशनल नजरिया रख खरीदारी करने की सलाह होगी।
  
आनंद राठी के टेक्निकल-डेरिवेटिव हेड जय ठक्कर का कहना है कि इलाहाबाद बैंक में अच्छी तेजी देखने को मिली है। इसमें निचले स्तर पर 84-85 रुपये के स्तर पर बेहतर सपोर्ट बना हुआ है अगर यह अपने सपोर्ट लेवल को नहीं तोड़ता तो इसमें आनेवाले कुछ समय में 90-100 रुपये तक के स्तर आसानी से देखने को मिल सकते हैं।


डेल्टा कॉर्प में ऊपरी स्तर पर 200 रुपये पर रेजिस्टेंस बना हुआ है। जब तक इसमें 218 रुपये का स्तर पार नहीं होता तब तक इसमें किसी तरह की कोई खरीदारी करने की सलाह नहीं होगी। हालांकि इसमें उछाल पर बिकवाली करने की सलाह होगी।


मोतीलाल ओसवाल सिक्योरिटीज के वीपी-रिसर्च, योगेश मेहता का कहना है कि मौजूदा समय में बाजार में वैल्युएशन गैप काफी बढ़ गया है जिसके कारण बाजार में थोड़ी घबराहट की स्थिति बनी हुई है और इसी के चलते बाजार में मुनाफावसूली हावी हो रही है। एफएमजीसी सेक्टर, हाउसिंग फाइनेंस सेक्टर पर वैल्युएशन ज्यादा होने के कारण यहां मुनाफावसूली हावी हो सकती है।


हडको में इन्वेस्टमेंट करने में किसी तरह की कोई गलती नहीं होगी। लिहाजा इसमें लिस्टिंग के लिहाज से भी पैसा लगाया जा सकता है।


पावरमायवेल्थ डॉट कॉम के संदीप वागले के मुताबिक डॉ रेड्डीज में 2550 रुपये के स्तर पर मजबूत सपोर्ट बना हुआ है। लिहाजा इसमें 2550 के निचले स्तर पर ही बिकवाली करने की सलाह होगी। लेकिन इसमें कमजोरी के चलते खरीदारी करने की सलाह नहीं होगी।