चौथी तिमाही बेहतर रहने की उम्मीद: विकास ईकोटेक -
Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

चौथी तिमाही बेहतर रहने की उम्मीद: विकास ईकोटेक

प्रकाशित Fri, 12, 2017 पर 14:33  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज नो योर कंपनी में हमारे रडार पर है विकास ईकोटेक। विकास ईकोटेक को 8 मई को मेक्सिको की कंपनी से ऑर्डर मिला। कंपनी को ये ऑर्डर कोलंबियन सब्सिडियरी के जरिए मिला है। कंपनी की पश्चिमी अमेरिका में नए संभावनाएं तलाशने की योजना है।


साथ ही विकास ईकोटेक को 16 मार्च को प्रेफ्रेंशियल इश्यू के जरिए फंड जुटाने को मंजूरी मिली है। 17 रुपये के भाव पर 2.56 करोड़ तक के प्रेफ्रेंशियल शेयर जारी किए जाएंगे। हालांकि प्रोमोटर्स प्रेफ्रेंशियल इश्यू में भागीदार नहीं होंगे। इश्यू के बाद विकास ईकोटेक में प्रोमोटर्स का हिस्सा घटकर 42 फीसदी होगा। कंपनी की प्रेफ्रेंशियल इश्यू के जरिए 40 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। प्रेफ्रेंशियल इश्यू से जुटी रकम का कैपिटल बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।


सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत में विकास ईकोटेक के एमडी, विकास गर्ग ने बताया कि कंपनी के पास वायर एंड केबल, पाइप्स, फैशन फूटवियर, एफएमसीजी और मेडिकल डिवाइस के कारोबार से जुड़े ग्राहक हैं। मेक्सिको की कंपनी मेक्सिकेम से मिले ऑर्डर के जरिए विकास ईकोटेक को लैटिन अमेरिका और सेंट्रल अमेरिका में पकड़ बनाने में मदद मिलेगी।


विकास गर्ग के मुताबिक विकास ईकोटेक की आय में घरेलू और एक्सपोर्ट की हिस्सेदारी 50-50 फीसदी की है। विकास गर्ग ने और जानकारी देते हुए बताया कि कंपनी का नोएडा एसईजेड में प्लांट है, जबकि कांडला एसईजेड के प्लांट के लिए लगभग सारी मंजूरियां मिल गई हैं। अगले 2 महीने में कांडला एसईजेड से उत्पादन शुरू होने की उम्मीद है। इसके अलावा कंपनी का राजस्थान और जम्मू में भी प्लांट हैं। वहीं मौजूदा वित्त वर्ष में गुजरात के दहेज में एक नया प्लांट शुरू करने की योजना है।


विकास गर्ग ने कहा कि नोटबंदी के चलते तीसरी तिमाही के नतीजों पर दबाव देखने को मिला। वैसे भी कंपनी के लिए तीसरी तिमाही में अमूमन सुस्त ही रहती है। हालांकि विकास ईकोटेक के लिए चौथी तिमाही थोड़ी बेहतर रहने की उम्मीद है। विकास गर्ग का कहना है कि प्रेफ्रेंशियल इश्यू के बाद प्रोमोटरों की हिस्सेदारी और कम करने की कोई योजना नहीं है, बल्कि आगे कंपनी में हिस्सा बढ़ाने पर फोकस रहेगा।