पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के घर सीबीआई के छापे -
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के घर सीबीआई के छापे

प्रकाशित Tue, 16, 2017 पर 13:37  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति के घर पर सीबीआई ने छापा मारा है। 2007 में आईएनएक्स मीडिया के मालिक पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी के साथ कार्ति के खिलाफ दर्ज एफआईआई पर ये कार्रवाई हुई है। दिल्ली, मुंबई, गुरुग्राम के साथ चेन्नई में कुल 14 ठिकानों पर छापे मारे गए हैं।


चिदंबरम और कार्ति के ठिकानों के साथ आईएनएक्स मीडिया से जुड़े रहे पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी के घरों पर भी छापे मारे गए। आरोप है कि आईएनएक्स मीडिया में विदेशी निवेश को हरी झंडी देने के लिए कार्ति ने पैसे लिए। उस समय पी चिदंबरम केंद्र सरकार में वित्त मंत्री थे।


वहीं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने सीबीआई के छापे को सियासी रंजिश बताया है। उन्होंने कहा है कि सरकार उनको सीबीआई के छापे के जरिए डराकर चुप कराना चाहती है। इसलिए सीबीआई उनके बेटे कार्तिक और उनके दोस्तों के घर पर छापे मार रही है।


वहीं पी चिदंबरम के बेटे कार्तिक चिदंबरम ने भी सीबीआई के छापों पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि जब सरकार आरोप साबित नहीं कर पाई तो अब उनकी आवाज को खामोश करना चाहती है। सिर्फ सियासी रंजिश के लिए ही सीबीआई की ओर से छापे की कार्रवाई की जा रही है।


उधर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव पर आयकर विभाग की बड़ी छापेमारी हुई है। लालू और उनके बेटों और बेटी मीसा से जुड़ी ये छापेमारी दिल्ली, रेवाड़ी और गुरुग्राम में 22 ठिकानों पर की गई है। जमीन के बेनामी सौदों को लेकर आयकर विभाग की छापेमारी की गई है।


आरोप है कि 1,000 करोड़ रुपये की बेनामी जमीन का सौदा किया गया। लालू से जुड़े ठिकानों के अलावा आरजेडी सांसद प्रेमचंद गुप्ता के बेटे और कुछ बड़े व्यापारियों के घर भी इनकम टैक्स की छापेमारी हुई है।


 आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट करके बीजेपी पर करारा हमला किया है। उन्होंने कहा है कि छापों के जरिए उनकी आवाज़ दबाने की कोशिश की जा रही है। लेकिन वो इससे डरेंगे नहीं।


वहीं आज कांग्रेस ने कहा कि सरकार, सीबीआई का इस्तेमाल कर विपक्ष को डराने की कोशिश कर रही है लेकिन विपक्ष इन हथकंडों से डरने वाला नहीं है। विपक्ष के आरोपों का जवाब दिया केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने। उन्होंने कहा भ्रष्टाचार के खिलाफ जांच चल रही है और सीबीआई तथा इनकम टैक्स छापे किसी भी तरह से सरकारी तंत्र का दुरुपयोग नहीं है।