Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जीएसटीः दरें तय करने पर श्रीनगर में बैठक

प्रकाशित Thu, 18, 2017 पर 08:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

1 जुलाई से आप नमक से लेकर लक्जरी कार तक, जो कुछ भी खरीदेंगे, उस पर जीएसटी लगेगा। कौन सी चीज पर किस रेट से टैक्स वसूला जाएगा, इस पर फैसला करने के लिए आज से 2 दिन तक श्रीनगर में जीएसटी काउंसिल की बैठक चलेगी। घाटी के हालात को देखते हुए बैठक के लिए भारी सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं।


जीएसटी के लिए 5, 12, 18 और 28 फीसदी के चार स्लैब तय कर लिए गए हैं। अब ये तय किया जाना है कि कौन सी वस्तु या सेवा किस स्लैब में आएगी। सबसे बड़ी चुनौती होगी सोने के गहनों और जरूरी सेवाओं के लिए दरें तय करना।


बताया जा रहा है कि दूध, दही, सब्जी जैसे करीब 100 आइटम को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा जाएगा। वहीं मौजूदा टैक्स की दर जिस स्लैब के करीब होगा उसी में आइटम को शामिल किया जाएगा। फिलहाल केंद्र सरकार की तरफ से 299 और राज्य सरकार की तरफ 99 आइटम पर टैक्स नहीं लगाया जाएगा। गोल्ड और गोल्ड ज्वैलरी पर अलग से टैक्स लगेगा। दरअसल गोल्ड और गोल्ड ज्वैलरी पर टैक्स की दरों को लेकर राज्यों में मतभेद है।


ये भी कहा जा रहा है कि सेवाओं पर भी अलग-अलग टैक्स की दरें होंगी। सामान्य सेवाओं पर जहां अभी करीब 15 फीसदी टैक्स लगता है वहां 18 फीसदी टैक्स लग सकता है। ट्रैवल सर्विस, होटल किराये जैसी सेवाओं पर 12 फीसदी टैक्स लग सकता है। माल ढुलाई जैसी सेवाओं पर 5 फीसदी टैक्स लग सकता है।