एसबीआईः मुनाफा 2.2 गुना बढ़ा, एनपीए में भी कमी

प्रकाशित Fri, 19, 2017 पर 12:17  |  स्रोत : Moneycontrol.com

वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एसबीआई का मुनाफा 2.2 गुना बढ़कर 2814 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2016 की चौथी तिमाही में एसबीआई का मुनाफा 1263.8 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एसबीआई की ब्याज आय 17.3 फीसदी बढ़कर 18,070.7 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2016 की चौथी तिमाही में एसबीआई की ब्याज आय 15,401.2 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही दर तिमाही आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में एसबीआई का ग्रॉस एनपीए 7.23 फीसदी से घटकर 6.9 फीसदी रहा है। तिमाही आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में एसबीआई का नेट एनपीए 4.24 फीसदी से घटकर 3.71 फीसदी रहा है।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में रुपये में एसबीआई का ग्रॉस एनपीए 1.08 लाख करोड़ रुपये के मुकाबले 1.12 लाख करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में रुपये में एसबीआई का नेट एनपीए 61,430 करोड़ रुपये के मुकाबले 58,277 करोड़ रुपये रहा है।


तिमाही आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में एसबीआई की प्रोविजनिंग 8942.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 11,740 करोड़ रुपये रही है, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में बैंक की प्रोविजनिंग 13,147 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एसबीआई के नए एनपीए 10,185 करोड़ रुपये से घटकर 9755 करोड़ रुपये रहे हैं।