Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

सस्ती दवा महंगी बेचने का खेल, दवा कंपनियों का इलाज कब!

प्रकाशित Fri, 19, 2017 पर 19:23  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एनपीपीए दवा की कीमत निर्धारित करता है, लेकिन कुछ फार्मा कंपनियां तिकड़म लगातर आपकी जेब काटती हैं। दो दिन पहले एनपीपीए ने कुछ ऐसी कंपनियों को पकड़ा था। तो सवाल ये है कि आखिर फर्जीवाड़ा होता है कैसे है। कैसे एक सॉल्ट की सस्ती दवा तिकड़म लगाकर ऊंची कीमत पर बेची जाती है?


एनपीपीए की निर्धारित क़ीमतों के बावजूद फार्मा कंपनीयों ने जो खेला जा रहा है। दरअसल फार्मा कंपनियां तय कीमत से ज्यादा पर दवा बेच रही हैं और बिना प्राइस अप्रूवल के ही नई दवा बाजार में उतारी जा रही है। सरकार से बचने के लिए यह कंपनियां दो सॉल्ट मिलाकर नई दवा बनाई जा रही हैं।