Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

एनपीए पर आरबीआई का बड़ा एक्शन

प्रकाशित Wed, 14, 2017 पर 10:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सोमवार को वित्त मंत्री ने बैंकों और आरबीआई से कहा था कि एनपीए से सख्ती से निपटा जाए और 24 घंटे बीतते ही आरबीआई ने एक्शन भी शुरू कर दिया। एक्शन भी छोटा-मोटा नहीं, बड़ा एक्शन। आरबीआई ने 12 बैंकरप्सी खातों की पहचान की है जिन पर देश के सभी बैंकों का करीब 25 फीसदी एनपीए है। अब इन 12 खातों पर इंसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड के तहत कार्रवाई होगी। यानी अब बैंक इन खाताधारकों से आसानी से पैसा वसूल पाएंगे और अगर कोई कंपनी दिवालिया हो चुकी है तो 180 दिन के भीतर उसे बंद करने का निर्णय भी लिया जा सकता है। इसके अलावा दूसरे जो एनपीए हैं उन पर भी 6 महीने के भीतर प्लान सौंपा जाएगा।


बता दें कि बैंकरप्सी कानून के तहत कंपनी के लेनदार बैंकरप्सी के लिए अर्जी दे सकते हैं। कंपनी के डिफॉल्ट करने पर बैंकरप्सी प्रक्रिया शुरू होगी। इसके तहत कर्ज निपटारे का प्लान 180 दिन के भीतर देना होगा। कुछ मामलों में निपटारे के लिए 270 दिन मिलेंगे। तय समय में निपटारा न होने पर कंपनी की संपत्ति बिकेगी। कंपनी का नियंत्रण प्रोफेशनल्स के हाथ में होगा। कर्ज निपटारे की योजना पर 75 फीसदी लेनदारों की सहमति जरूरी है।


यूनाइटेड बैंक के एमडी पवन कुमार बजाज ने कहा कि आरबीआई के इस कदम से रिकवरी बढ़ेगी और बैंकों को काफी फायदा होगा। कर्जदार अब दिवालिया घोषित होने के डर से कर्ज वापस करने आएंगे जिनसे बैंकों को निश्चिततौर पर काफी मदद मिलेगी।