Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ब्‍लैकमनी छुपाना होगा मुश्किल, अब मिलेगी जानकारी

प्रकाशित Fri, 16, 2017 पर 17:16  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

2019 से काले धन के धनकुबेर स्विट्जरलैंड में अपनी काली कमाई नहीं छुपा पाएंगे। स्विट्जरलैंड ने भारत और 40 अन्‍य देशों के साथ फाइनेंशियल अकाउंट इन्‍फार्मेशन के ऑटोमेटिक एक्‍सचेंज को मंजूरी दे दी है। इससे संदिग्‍ध ब्‍लैकमनी की जानकारी तत्‍काल साझा की जा सकेगी। सूचना को शेयर करने की शुरुआत 2019 से होगी। विदेश में जमा ब्‍लैकमनी को भारत वापस लाने में सरकार को इस कदम से बड़ी सफलता मिलेगी। हालांकि ऑटोमैटिक एक्‍सचेंज से पहले स्विट्जरलैंड यह देखेगा कि क्‍या भारत गोपनीयता और डाटा सिक्‍योरिटी स्‍टैंडर्ड को पूरा करता है। ब्‍लैकमनी के मसले पर भारत और स्विट्जरलैंड के बीच लंबे समय से बहस चली आ रही है। स्विट्जरलैंड को अघोषित धन जमा करने का एक सेफ हैवन माना जाता है। ऐसा आरोप है कि कई भारतीयों की ब्‍लैकमनी स्विस बैंकों में जमा है।