Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

गिरावट का माहौल, अब क्या करें खरीदार

प्रकाशित Wed, 28, 2017 पर 16:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही। आज लगातार छठवें दिन बाजार गिरकर बंद हुए। निफ्टी 9500 के अहम लेवल के नीचे बंद हुआ। सेंसेक्स भी 124 टूटकर बंद हुआ। कमजोर ग्लोबल संकेत और कल एक्सपायरी का डर बाजार में हावी दिखा। आज की गिरावट में निफ्टी ने 9474.35 तक गोता लगाया, तो सेंसेक्स 30798.7 तक टूट गया था।


जॉएंड्रे कैपिटल के अविनाश गोरक्षकर का कहना है कि जीएसटी के बाद आनेवाले 2 तिमाही मार्जिन के लिहाज से थोड़े दबाव भरे हो सकते है। जिसके चलते बाजार में हल्की सी गिराव होने की संभावनाएं हो सकती है। हालांकि बाजार की गिरावट में एग्री सेक्टर में गिरावट पर खरीदारी करने की सलाह होगी। टेक्नोलॉजी कंपनियों में छोटी आईटी कंपनियों में एनआईआईटी टेक,  मास्टेक जैसे कंपनियों को अपने मार्जिन प्रोटेक्ट करने में ज्यादा आसानी होगी।


फर्टिलाइजर सेक्टर में जीएसएफसी, चंबल फर्टिलाइजर में तेजी देखने को मिली है और अच्छे मॉनसून के चलते इनमें तेजी बरकरार रहने की उम्मीद है। इसमें आनेवाले कुछ तिमाही के नतीजे अच्छे रहने की संभावनाएं है। लिहाजा इसमें खरीदारी की जा सकती है। केएसबी पंप और शक्ति पंप दोनों ही स्टॉक्स रुलर ओरिएंटल है। हालांकि इनमें लिक्विडीटी ज्यादा नहीं होती लेकिन मौजूदा स्तर से जिस प्रकार से इनमें तेजी आई है उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बाजार में रुलर सेक्टर को लेकर सकारात्मक नजरिया बना हुआ है।


आईसीआईसीआई प्रु में काफी अच्छी तेजी देखने को मिल रही है। कंपनी की रिटेल, ब्रांड इक्विटी और कैपिटल स्ट्रक्चर काफी मजबूत है। लिहाजा इसमें लंबी अवधि के लिए खरीदारी की जा सकती है।


टेक्निकल एक्सपर्ट सर्वेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि इस सीरीज बाजार की एक्सपायरी 9450 के स्तर पर होने की संभावनाएं है। मौजूदा निवेशक पीसी ज्वेलर्स में बने रह सकते है। जब तक इसमें 440-450 रुपये के स्तर को बरकरार रखने में सक्षम रहता है तब तक इसमें तेजी की उम्मीद है। 


यूनाइटेड स्पिरिट्स में काफी तेजी के बाद अब करेक्शन देखने को मिल रही है। जब तक यह 2250 रुपये के ऊपरी स्तर पर ट्रेड हो रहा है तब तक इसमें तेजी की उम्मीद की जा सकती है। लिहाजा लंबी अवधि का नजरिया रख 2250 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 200-300 प्वाइंट के ऊछाल के लिए खरीदारी की जा सकती है। एक्सिस बैंक में साइडवेज मुमेंटम देखने को मिल रही है।लिहाजा इसमें ट्रेडिंग का नजरिया रख 480 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ खरीदारी की जा सकती है।


रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा का कहना है कि फंडामेटल लिहाज से देखा जाएं तो बाजार में कोई ऐसा कारण नहीं है जिससे बाजार से बाहर निकला जा सकें। क्योंकि मौजूदा समय में बाजार में तेजी का नजरिया बना हुआ है। हालांकि बाजार में करेक्शन का मूड़ बना हुआ है लेकिन महज बाजार के करेक्शन में बाजार से बाहर निकलने में समझदारी नजर नहीं आती। अगर बड़े दिग्गज शेयरों में करेक्शन आता है तो निफ्टी में बड़ा करेक्शन देखने को मिलेगा वरना थोड़ी बहुत मुनाफावसूली होना स्वभाविक है। 


एस्कॉर्ट्स में वैल्यूएशन काफी ज्यादा है। हालांकि इसमें ऊपरी स्तर से करेक्शन देखने को मिली है। लेकिन अगर मॉनसून अच्छे रहते है और ट्रक्टर की डिमांड बेहतर रहती है तो मौजूदा स्तर से एस्कॉर्ट्स में 15-20 फीसदी तक की तेजी देखने को मिल सकती है। जिस तरह से भारतीय अर्थव्यस्था में इंफ्रास्ट्रक्चर की डिमांड में इजाफा होने की उम्मीद है उससे इंफ्रा कंपनियों को काफी फायदा मिल सकता है। लिहाजा इस सेक्टर में कुछ चुनिंदा स्टॉक्स जैसे अटलांटा में खरीदारी की जा सकती है। 


पावरमायवेल्थ डॉट कॉम के संदीप वागले का कहना है किआइडिया में ट्रेडिंग के लिहाज से काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। लिहाजा इसमें मौजूदा स्तर से ट्रेडिंग का नजरिया रख 82 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 92-93 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है। वहींचोलामंडलम में लंबी अवधि का नजरिया रख खरीदारी करने की राय होगी। क्योंकि इसमें 1125 रुपये के स्तर पर रजिस्टेंस बना हुआ है।