Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

आगे कैसी रहेगी चाल, किन शेयरों पर लगाएं दांव

प्रकाशित Fri, 07, 2017 पर 16:03  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज घरेलू बाजारों में सीमित दायरे में कारोबार देखने को मिला। सेंसेक्स और निफ्टी सपाट होकर बंद हुए हैं। निफ्टी 9670 के आसपास बंद हुआ है, जबकि सेंसेक्स 31360 के करीब बंद हुआ है। आज के कारोबार में निफ्टी ने 9642.65 तक गोता लगाया, तो सेंसेक्स 31286.62 तक टूटा था। वहीं, आज के कारोबार में निफ्टी ने 9684.25 तक दस्तक दी, तो सेंसेक्स 31426.29 तक पहुंचा था।


इक्विटीरश के कुणाल सरावगी का कहना है कि आज के सत्र में बैंकनिफ्टी सीमित दायरे में कारोबार करता नजर आया है। इसमें 23400 के स्तर पर सपोर्ट बना हुआ है। अगर बैंकनिफ्टी अपने इस सपोर्ट स्तर को तोड़ता है तो इसमें और गिरावट देखने को मिल सकती है। बैंकनिफ्टी निफ्टी को अंडरपरफॉर्म कर रहा है। लिहाजा जिन निवेशकों ने बैंकनिफ्टी में लॉन्ग पोजिशन खड़ी की है वह 23400 के स्टॉपलॉस के साथ बने रहें। फिलहाल ट्रेड पॉजिटीव होने के कारण लॉन्ग पोजिशन में बने रहें। लेकिन 23400 के निचले स्तर पर शॉर्ट पोजिशन बनाई जा सकती है। सरकारी दिग्गज बैंकिंग में एसबीआई और पीएनबी जैसे शेयरों में मौजूदा स्तर से और गिरावट देखने को मिल सकती है। जिसके कारण बैंकनिफ्टी 23400 के निचले स्तर पर फिसल सकता है।


यूनिवर्सल केबल्स में 118 रुपये के स्तर पर रजिस्टेंस बना हुआ है। अगर इसने अपने रजिस्टेंस स्तर को पार किया तो इसमें 225 रुपये तक के स्तर देखने को मिल सकते है। लिहाजा इसमें ट्रेडिंग का नजरिया ना रखते हुए पोजिशनल खरीदारी की जा सकती है।


आज के सत्र में भले ही स्मार्टलिंक और डी-लिंक में तेजी देखने को मिल रही है। लेकिन इसमें अभी खरीदारी की राय नहीं होगी क्योंकि इसमें इतना वॉल्यूम नहीं होता जितना होना चाहिए। लिहाजा इन दोनों में ही खरीदारी की राय नहीं होगी। डी-लिंक (इंडिया) जब तक 115 रुपये के स्तर को पार कर उस स्तर को होल्ड नहीं करता तब तक इसमें खरीदारी की राय नहीं होगी। 


क्रॉफ्ट वेल्थ मैनेजमेंट के आशीष कुकरेजा का कहना है कि तेजस नेटवर्क काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही है। भारत नेट फेज 2 का फायदा इस कंपनी को अधिक हो सकता है। लिहाजा इसमें खरीदारी की जा सकती है। इस बाजार में अगर जयप्रकाश एसोसिएट में उतार-चढ़ाव के माहौल को झेल सकते है तो 6 महीने का नजरिया रख इसमें बने रह सकते है।


मार्केट एक्सपर्ट सुदीप बंद्योपाध्याय के अनुसार बाजार की चाल को देखते हुए यह कहना सहीं है कि निवेशक मिडकैप सेक्टर, लॉर्जकैप सेक्टर, स्मॉलकैप सेक्टर में चुनिंदा स्टॉक्स में ही निवेश करने की रणनीति बनाकर चलने की सलाह होगी। अगले हफ्ते से शुरू होने वाला है रिजल्ट सीजन और जीएसटी लागू होने के बाद कुछ चुनिंदा सेक्टर के नतीजे अच्छे रह सकते है। इसमें स्टील सेक्टर के नतीजे बेहतर रहने की उम्मीद है। वहीं सीमेंट क्षेत्र में भी अच्छे रिजल्ट हो सकते है। बैंकिंग सेक्टर के नतीजे बेहतर रहने की उम्मीद नहीं है।


फार्मा सेक्टर में शतर्क रहने की जरुरत है। यूएस एफडीए के कारण भारतीय फार्मा कंपनियों पर इनका दबाव देखने को मिल सकता है। जिसके कारण फार्मा सेक्टर के नतीजे थोड़े निराशाजनक रह सकते है। हालांकि इसमें जूबिलंट लाइफ, नेटको फार्मा में 1 साल का नजरिया रख खरीदारी की जा सकती है।


भारती इंफ्राटेल में सकारात्मक नजरिया बना हुआ है। इसमें आनेवाले दिनों में तेजी की संभावनाएं बनी हुई है। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के आईपीओ में पैसे लगाने की सलाह होगी। एयू कंपनी अच्छी कंपनी है। इसके इश्यू अच्छे है। लिहाजा इसमें लंबी अवधि का नजरिया रख खरीदारी की जा सकती है।