Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

12 महीनों के गलत फैसलों पर एंबिट की रिपोर्ट

प्रकाशित Wed, 12, 2017 पर 11:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जनवरी से अब तक निफ्टी ने करीब 20 फीसदी रिटर्न दिया है और ब्रोकर्स की सटीक सलाह पर निवेशकों ने इस तेजी में जमकर पैसे बनाए हैं। लेकिन कई ब्रोकरेज हाउस ऐसे भी हैं, जिन्होंने इस बुल रन में मौका गंवाया है। जानी-मानी ब्रोकरेज फर्म एंबिट कैपिटल ने एक रिपोर्ट निकाली है और इसमें पिछले एक साल में दी गई अपनी गलत कॉल्स का जिक्र किया है।


एंबिट ने अपनी गलती स्वीकारते हुए कहा है कि पिछले 1 साल में दी गई कई सलाह गलत निकली है। नोटबंदी के बाद जीडीपी ग्रोथ घटने का अनुमान गलत था। नोटबंदी से बैंकिंग-फाइनेंस में क्रेडिट ग्रोथ घटने का अनुमान गलत साबित हुआ है। नोटबंदी के बाद बैंकिंग-फाइनेंस शेयरों में अच्छी रिकवरी आई है। साथ ही बाजार की तेजी में पोर्टफोलियो में 15 फीसदी कैश रखना गलत था।


एंबिट के मुताबिक बजाज फाइनेंस में बिकवाली का फैसला सही नहीं था। ब्रिटानिया और एलएंडटी में बिकवाली की राय गलत साबित हुई। क्रॉम्प्टन कंज्यूमर की मुश्किलों का अंदाजा गलत निकला, जबकि क्रॉम्प्टन कंज्यूमर की मुश्किलों का अंदाजा भी गलत निकला। मारुति में बिकवाली का फैसला जल्दबाजी में लिया गया। यही नहीं कई अच्छे रिटर्न देने वाले आईपीओ में निवेश का मौका गंवाया। दिलीप बिल्डकॉन, आरबीएल बैंक पर गलत अनुमान से नुकसान हुआ है।