Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनीः इंश्योरेंस पॉलिसी में नए ऑफर्स, क्या है फायदे

प्रकाशित Wed, 12, 2017 पर 13:58  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बीमा का मकसद होता है आपको हर जोखिम से बचाना। फिर चाहे वो जान का जोखिम हो या माल का। अगर इसमें भी आप निवेश के मौके तलाशेंगे तो न सही तरीके से निवेश कर पाएंगें और ना पर्याप्त बीमा कवर खरीद पाएंगें। निवेश और इंश्योरेंस को अलग अलग रखना चाहिए। योर मनी में इंश्योरेंस से जुडी आपकी तमाम उलझनों को सुलझाने के लिए हमारे साथ है सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर पूनम रूंगटा। साथ ही जानेंगे कि क्या है इंश्योरेंस पॉलिसी में वैल्यू एडेड सर्विस।


पूनम रूंगटा का कहना है कि हेल्थ पॉलिसी पर कंपनियां नए ऑफर्स दे रही है। ठीक उसी तरह से इंश्योरेंस कंपनियां वैल्यू एडेड ऑफर दे रही हैं। इस ऑफर के तहत अगर आप सिगरेट छोड़ने पर रिवॉर्ड प्वाइंट मिलता है। साथ ही पॉलिसी कर्ता के आयुर्वेदिक इलाज के खर्चों की भी भरपाई इस नए ऑफर्स के तहत दी जा रही है। इतना ही नहीं इस ऑफर के अनुसार आपको दूसरे डॉक्टर से सेकंड ओपिनियन का मौका मिलता है। हालांकि  लिमिट खत्म होने पर दोबारा बेसिक रकम मिलता है और क्लेम नहीं करने पर प्रीमियम पर डिस्काउंट का भी मौका इस ऑफर्स में दिया गया है।


इंश्योरेंस पॉलिसी में वैल्यू एडेड सर्विस प्लान पर बात करते हुए पूनम रूंगटा ने आगे कहा कि नए फीचर वाली यानि वैल्यू एडेड सेवाओं वाली पॉलिसी पर पॉलिसी धारकों को प्रीमियम ज्यादा चुकाना होगा। लिहाजा  अपने बजट और जरूरत के हिसाब से पॉलिसी लें क्योंकि दोबारा बेसिक एश्योर्ड जुड़ने वाली पॉलिसी का खास फायदा नहीं मिलता है। लेकिन कवर बढ़ाने के लिए सुपर टॉप-अप प्लान लेना बेहतर होता है।


सवालः एसबीआई लाईफ- स्मार्ट मनी बैक गोल्ड पॉलिसी में 50,000 रुपये सालाना का निवेश कर रहे हैं। निवेश के लिए अगले साल तीन साल हो पूरे हो जाएंगे। तो क्या पॉलिसी जारी रखनी चाहिए या नहीं और क्या पॉलिसी पर कोई फायदा मिल सकता है?


पूनम रूंगटा: एसबीआई लाइफ स्मार्ट मनी बैक गोल्ड एक पारंपरिक प्लान है। मनी बैक फीचर के साथ 4 राइडर चुनने का विकल्प होगा। समअश्योर्ड की राशि प्रीमियम का 105 फीसदी होता है। 3 से 4 साल बाद प़ॉलिसी को सरेंडर कर दें।


सवालः एलआईसी जीवन श्री पॉलिसी खरीदी है जिसकी तिमाही प्रीमियम 13,050 रुपये है। प्रीमियम की आखिरी किश्त अक्टूबर 2017 में है और पॉलिसी की मैच्योरिटी 2027 तक होगी। कुछ लक्ष्य निर्धारित किए है जिसके चलते 10 से 15 साल के लिए कहां निवेश करना चाहिए ?


पूनम रूंगटा: जीवन श्री बाजार से जुड़ी पॉलिसी नहीं है। जीवन श्री एक पारंपरिक प्लान है। इसमें बोनस मिलने पर कवर 10 लाख हर साल बढ़ता है। मैच्योरिटी पर 35 लाख की राशि मिलेगी और मैच्योरिटी पर लॉयल्टी एडिशन भी मिलेगा। अगर आपने इस पॉलिसी को सरेंडर किया तो इसका फायदा आपको नहीं मिल सकता है। लॉयल्टी एडिशन सम अश्योर्ड का 10 से 40 फीसदी है। 35 लाख को रिटायरमेंट के लिए निवेश करें। वहीं अपनी बेटी की पढाई, घर और रिटायरमेंट के लिए म्यूचूअल फंड्स  में निवेश करें।