Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

थम गई बाजार की रफ्तार, कहां पैसा लगाएं खरीदार

प्रकाशित Fri, 14, 2017 पर 16:32  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आनंद राठी के सिद्धार्त सेदानी का कहना है कि मौजूदा निवेशकों को एयू स्मॉल फाइनेंस से निकल जाना चाहिए। वैल्यूएशन कंम्फर्ट जोन में होंगे तभी इसमें खरीदारी करनी चाहिए। हडको काफी अच्छा है, हाउसिंग फाइनेंस सेक्टर में वैल्यूएशन के लिहाज से कुछ कंपनियां काफी ओवरस्ट्रेच है। दीवान हाउसिंग फाइनेंस में अब भी खरीदारी की जा सकती है। टीसीएस का वॉल्यूम ग्रोथ काफी अच्छा रहा है जबकि इंफोसिस का कम रहा है। लेकिन डॉलर गाइडेंस बढ़ने से इंफोसिस में मजबूती देखने को मिल रही है। मिडकैप आईटी सेक्टर पर पॉजिटीव रहना चाहिए, इनमें खरीदारी करके चल सकते हैं। वहीं रोड सेगमेंट में आईआरबी इंफ्रा पसंद है, इसमें खरीद की राय होगी।    


इक्विटीरश के कुणाल सरावगी के मुताबिक बायोकॉन, सिंजिन में खरीदारी करने की राय होगी। बायोकॉन का स्ट्रक्चर काफी पॉजिटीव है, इसमें और ऊपरी स्तर आ सकते हैं। मुमकिन है कि बायोकॉन का शेयर 450 रुपये तक जाएं। सिंजिन में 530-540 रुपये के स्तर जल्द आते नजर आ सकते हैं। टीसीएस का स्ट्रक्चर बेहतर है, इंफोसिस ब्रेकआउट दिखाने में कुछ वक्त लगा सकता है। अगर इन दोनों में कोई एक शेयर चुनना हो तो टीसीएस को चुन सकते है। वहीं डीसीबी बैंक और कर्नाटक बैंक इन दोनों में से डीसीबी बैंक को खरीदना चाहिए। इसका चार्ट स्ट्रक्चर काफी अच्छा है। डीसीबी बैंक में यहां से भी 5-6 फीसदी की गुंजाइश है।


रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा का कहना है कि पीटीसी में अब भी खरीदारी का मौका है। इसमें 12 महीने के नजरिए से 180 रुपये के कन्जर्वेटिव टार्गेट के लिए खरीदारी की जा सकती है। पीटीसी फंडामेंटली अच्छी कंपनी है और इस बार कंपनी ने 3 रुपये का डिविडेंड दिया है। अगले साल कंपनी का डिविडेंड और बढ़ सकता है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के नतीजे ट्रेंड के लिहाज से ठीक आने चाहिए। अगले 12 महीने में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2000 रुपये का स्तर भी पार कर सकता है।