Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ओवरड्राइवः नई मर्सिडीज जीएलए की टेस्ट ड्राइव

प्रकाशित Sat, 15, 2017 पर 15:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मर्सिडीज बेंज इंडिया ने आज जीएलए का नया अवतार लॉन्च कर दिया है। जीएलए मर्सिडीज के बेड़े में एंट्री सेगमेंट की एसयूवी है। और इसका सीधा मुकाबला बीएमडब्ल्यू X1 और ऑडी Q3 से है। नई जीएलए में कई कॉस्मैटिक बदलाव किए गए हैं लेकिन इसके फीचर्स में कोई बदलाव नहीं किया गया हैं। कॉस्मैटिक बदलाव में फ्रंट और रियर बंपर का डिजाइन नये शेप में है। साथ ही हेडलैंप में अब एलईडी मिलेगा जबकि फिहलाल बाय-ज़ेनन लाइट मिलते हैं। ऑफरोड में ड्राइव के दौरान बेहतर कंफर्ट मिले इसके लिए नया सस्पेंशन दिया गया है। इंटीरियर में सबसे बड़ा बदलाव इसके इंफोटेनमेंट सिस्टम में किया गया है। साथ ही डैशबोर्ड में और भी कई छोटे-छोटे बदलाव मिल जाएंगे। इसके इंजन और परफॉर्मेंस में बदलाव नहीं किया गया है। पहले की तरह पेट्रोल वेरिएंट में 183 बीएचपी पावर देने वाला 2 लीटर का इंजन है जबकि इसके डीजल वेरिएंट में 2.1 लीटर का इंजन है जो 136बीएचपी पावर देता है। और दोनों ही इंजन वेरिएंट 7 स्पीड ऑटोमैटिक गियर के सहारे काम करता है। फ्रंट ड्रिल नए शेप में मिलेगा।


क्रोम बटन जो पहले ब्लैक हुआ करता था। एसी के वेंट्स में जो राउंड सर्कल इस्तेमाल किया गया है उसके डिजाइन को चेंज किया गया है। 4 ड्राइविंग मोड मिलते हैं। 12 कलर एंबिएंट लाइट दिया गया है जो पहले नहीं हुआ करता था।


मर्सिडीज जीएलए में आपको तीन इंजन ऑप्शन मिलते हैं। एक पेट्रोल और दो डीजल। जीएलए200 पेट्रोल वेरिएंट है और इसमें 2 लीटर का इंजन है जो 183 पावर देता है। दूसरा 200डी इसमें आपको 2.1 लीटर का डीजल इंजन है जो 136बीएचपी पावर देता है। और तीसरा 200डी 4मैटिकजो मैं चला रहा हूं. इसमें भी 2.1 लीटर का इंजन है लेकिन पावर 170बीएचपी। और इसी वेरिएंट में 4 व्हील ड्राइव का ऑप्शन मिलता है। पावर और इंजन भले ही तीनों वेरिएंट में अलग-अलग हों लेकिन सभी में 7 स्पीड ऑटोमैटिक गियर है।


मर्सिडीज के बेड़े में जीएलए एक कॉम्पैक्ट क्रॉस ओवर कार है। भारत में पहली बार सितंबर 2014 में आई थी। और ये गाड़ी इतनी पॉपुलर हुई की एक साल के अंदर ही कंपनी इसका प्रोडक्शन यहां पर शुरू कर दी। कम कीमत, बेहतरिन फीचर्स और ब्रांड वैल्यू के दम पर देश में अभी तक 13 हजार से ज्यादा जीएलएबिक चुकी है। लेकिन आप जो गाड़ी देख रहे हैं वो नई जीएलए है। या यूं कहें कि जीएलए का नया अवतार है। और इस नये अवतार में कई छोटे-छोटे बदलाव किए गए हैं। उनमें पहला बदलाव इसके फ्रंट लुक में किया गया है। इसके रेडिएटर ग्रिल को पहले से खूबसूरत बनाया गया है। लोवर बंपर भी नए शेप में है। लेकिन यहां पर सबसे बड़ा बदलाव इसके हेडलैंप में किया गया है। अब एलईडी हेडलैंप मिलते हैं जबकि पहले इसमें बाई जेनॉन लाइट हुआ करता था।


इन सब बदलाव के साथ नई जीएलए का फ्रंट लुक पहले के मकुबाले काफी खूबसूरत लगने लगी है। साथ ही अब ये एक मजबूत एसयूवी का फील देती है। साइड से देखें तो इसके बॉडी में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है। पहले की तरह शार्प लाइन मिल जाएंगे। लेकिन इसमें लगे एलॉय व्हील का डिजाइन नया है। कंपनी इसमें स्टैंडर्ड 18 इंच का एलॉय व्हील दे रही है। आप चाहें तो 19 इंच का व्हील भी लगवा सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको अलग से पैसे देने होंगे।


इस तरह से इंटीरियर में ज्यादा बदालाव नहीं किया गया है। साथ ही 12 कलर्स एंबिएंट लाइट को छोड़ दिया जाए तो फीचर्स के मामले में भी कुछ नया नहीं है। रियर एसी वेंट और क्लाइमेंट कंट्रोल को लेकर पहले जो शिकायत थी इस नई जीएलए में भी है। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में कंपनी ये भी फीचर्स इसमें दे। लेकिन उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री की वजह से जीएलए का इंटीरियर इस सेगमेंट की बाकी एसयूवी के मुकाबले थोड़ी बेहतर दिखती है। बूट स्पेस भी अच्छा खासा है। 421 लीटर लग्गेज स्पेस मिलता है।


इसमें चार ड्राइविंग मोड दिए गए हैं, जिसे आप अपने ड्राइविंग कंडिशन के अनुसार सेट कर सकते हैं। कंफर्ट मोड में जीएलए काफी स्मूथ चलती है। और डीजल इंजन होने के बाउजूद भी कंफर्ट मोड में चलाने पर इंजन की आवाज बिलकुल नहीं आती है। स्पोर्ट में डालते ही इसकी परफॉर्मेंस कमाल की हो जाती है। इसकी टॉप स्पीड 218 किलोमीटर है और ये 0 से 100 किलोमीटर की रफ्तार 7.7 सेकेंड में छू लेती है।


ऑफरोड में ड्राइव करते वक्त लगता नहीं कि आप एक क्रॉस ओवर कार चला रहे हैं। इसके पीछे वजह है इसमें लगा फोरमैटिक सिस्टम। इसी टेक्नोलॉजी की वजह से जीएलए खराब रास्तों में एक बेहतरिन एसयूवी की तरह परफॉर्म करती है। इसके शॉकर को एक एसयूवी की तरह थोड़ा स्टिफ रखा गया है। ताकी उबड़ खाबड़ रास्तों में ये एक कारगार वाहन साबित हो। इस तरह से जीएलए साइज के मामले में जरूर छोटी गाड़ी है लेकिन एडवेंचर के लिहाज सही कार है। जीएसटी और देश में प्रोडक्शन की वजह से नई एसयूवी कीमत के लिहाज से थोड़ी सस्ती भी हो गई है। अब इसकी कीमत 30 लाख 65 हजार से 36 लाख 75 हजार रुपये के बीच है।