Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » प्रॉपर्टी

सही प्रॉपर्टी निवेश देगा भविष्य में अच्छा रिटर्न

प्रकाशित Tue, 08, 2017 पर 17:58  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

प्रॉपर्टी की सभी जरूरी जानकारी के साथ-साथ हम आपको देंगे, आपकी प्रॉपर्टी इन्वेस्टमेंट से जुड़े सवालों के जवाब। और आपके सवालों के जवाब देंगे एक्वेस्ट के डायरेक्टर परेश कारिया।


सवालः साल 2012 में शांती नगर मीरा रोड में 1बीएचके लिया है। 5 साल में भाव में कोई बढ़त नहीं हुई है। क्या रिडेवलपमेंट के बाद प्रॉपर्टी को अच्छा भाव मिलेगा। या इस निवेश से निकलर रिइनवेस्टमेंट करें?


परेश कारियाः 3 साल से एप्रिसिएशन थमा हुआ है।  किफायती हाउसिंग के लिए बढ़िया रिहायशी इलाका है और बेहतरीन इन्फ्रास्ट्रक्चर भी है। अगर अच्छा भाव मिले तो प्रॉपर्टी बेच दें।  दहिसर में रिइन्वेस्टमेंट के विकल्प मौजूद है। बाजार में रौनक लौटते ही दहिसर के मार्केट को ज्यादा फायदा मिलेगा। दहिसर बीएमसी की हद में है और वहां जल्द मेट्रो शुरू होने जा रही है। दहिसर में बढ़िया एप्रिसिएशन की उम्मीद है।


सवालः नगर रोड या वार्जे में 1000 वर्गफूट तक का 2बीएचके लेना है। बजट 60 लाख रुपये का है, बिजली पानी जैसी बुदियादी सुविधाएं मिले ऐसे प्रोजेक्ट का सुझाव चाहिए।


परेश कारियाः कल्याणी नगर, विमान नगर, खराडी, वघोली जैसे इलाके है। आईटी हब में रिहायशी प्रॉपर्टी की बढ़िया डेवलपमेंट हो रहा है।  वघोली में गेटेड कम्युनिटी प्रोजेक्ट के कई विकल्प मौजूद है और कोल्ते-पाटिल, न्याती डेवलपर्स, जैसे प्रोजेक्ट अच्छे है। खराडी में रिवर डेल जैसे प्रोजेक्ट निवेश के लिए देखें। वघोली के मुकाबले खराड़ी का भाव ज्यादा है। केशवनगर में भी अच्छे एप्रिसिशन की आशा है। साथ ही गोदरेज का इन्फिनीटी काफी बड़ा प्रोजेक्ट है औऱ पूर्वांकूरा का सिल्वर सैंड प्रोजेक्ट भी अच्छा ऑप्शन है।


सवालः खराड़ी में गार्डियन डेवलपर के इस्टर्न मेडॉस में फ्लैट बुक किया है। पजेशन 2019 में मिलेगा। डेवलपर बची हुई रकम पर जीएसटी की मांग कर रहा है। कितना जीएसटी भरना होगा जानना है। इनपुट टैक्स  क्रेडिट का फायदा ग्राहकों तक कब पहुंचेगा ?


परेश कारियाः 31 जुलाई तक अंडरकंस्ट्रक्शन प्रॉपर्टी पर ग्राहकों को पुराना टैक्स लगा है। 1 फीसदी वैट और 4.5 फीसदी सर्विस टैक्स मिलाकर 5.5 फीसदी टैक्स लगेगा। जीएसटी लागू होने के बाद प्रॉपर्टी पर टैक्स 12 फीसदी हुआ। इस टैक्स के बदले इनपुट टैक्स क्रेडिट मिलेगा। इनपुट टैक्स क्रेडिट डेवलपर को मिलेगा। इनपुट टैक्स क्रेडिट पर अबतक सरकार की तरफ से पूरी सफाई नहीं आई है। डेवलपर को मिली राहत का फायदा ग्राहकों को मिलना चाहिए। इनपुट टैक्स क्रेडिट 3-4 फीसदी होने का अनुमान है।