Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

भारत में एंट्री से पहले मुश्किल में आइकिया

प्रकाशित Thu, 10, 2017 पर 17:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

भारत में अपने प्रोडक्ट पर एमआरपी लिखने के मुद्दे पर स्वीडिश फर्निचर रिटेलर आइकिया मुश्किल में आ गई है। हमें मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक आइकिया के प्रोडक्टस पर एमआरपी ना छापने पर उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय को आपत्ति है।


सूत्रों के मुताबिक उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने आइकिया के प्रोडक्ट  लेबलिंग के तौर-तरीकों पर एतराज जताया है। मंत्रालय का मानना है कि प्रोडक्ट लेबलिंग पर एमआरपी ना लिखना पैकेज्ड कमोडिटी एक्ट 2011 का उल्लंघन होगा। इतना ही नहीं आइकिया को विशेष सुविधा देने पर मंत्रालय राजी नहीं है। सूत्रों की माने तो उपभोक्ता मामलों का मंत्रालय अब संबंधित मंत्रालयों की राय लेगा।


दरअसल आइकिया प्रोडक्ट लेबलिंग पर एमआरपी ना लिखने की वजह बता रही है। कंपनी ने इस मामले पर अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि  कंपनी बारकोडिंग के जरिए एमआरपी की लेबलिंग करती है और रेक से  हर प्रोडक्ट निकाल कर एमआरपी लिखना मुश्किल है। साथ ही एमआरपी के लिए ज्यादा वर्कफोर्स और समय की जरूरत होती है। अगर कंपनी एमआरपी लिखती है तो वह भारतीय ग्राहकों को आइकिया के प्रोडक्ट्स महंगे पड़ेंगे।