Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

दिवालिया होने की कगार पर जेपी इंफ्राटेक

प्रकाशित Fri, 11, 2017 पर 09:12  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

देश की बड़ी इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनियों में से एक जेपी इंफ्राटेक जल्द ही दिवालिया घोषित हो सकती है। नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल यानी एनसीएलटी ने जेपी इंफ्राटेक को दिवालिया घोषित करने की प्रक्रिया शुरू करने की मंजूरी दे दी है।


जेपी इंफ्रा को दिवालिया घोषित करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। नेशनल कंपनी लॉ बोर्ड ट्रिब्यूनल ने इसकी मंजूरी दे दी है। आईडीबीआई बैंक की याचिका पर इसको मंजूरी मिली है। इस प्रक्रिया के तहत जेपी इंफ्रा की संपत्तियों का मूल्यांकन होगा। इसके लिए 7 अकाउंटिंग कंपनियों में से एक को जिम्मा मिलेगा और कर्ज चुकाने की संभावनाओं का पता लगाया जाएगा। 270 दिनों के भीतर कंपनी के फाइनेंस की जांच होगी और अगर कर्ज चुकाने की हालत नहीं बनी तो नीलामी होगी। जेपी इंफ्राटेक, जेपी एसोशिएट की बड़ी कंपनियों में से एक है। जेपी एसोसिएट का जेपी इंफ्रा में 71.64 फीसदी हिस्सा है।