Moneycontrol » समाचार » रिटायरमेंट

रिटायरमेंट की चिंता से मुक्ति, यहां मिलेगा फायदा

प्रकाशित Sat, 12, 2017 पर 14:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिटायरमेंट की प्लानिंग जितनी जल्दी हो, उतनी जल्दी शुरू कर देनी चाहिए, बल्कि आपके आर्थिक लक्ष्यों में सबसे पहला लक्ष्य रिटारमेंट का ही होना चाहिए। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है, के रिटायमेंट के लिए 60 की ही उम्र क्यों? अगर आपको 60 से पहले रिटायर होना हो तो? योर मनी पर आपको बताएंगे जल्दी रिटायर होने के नुस्खे। आपको हम बताएंगे की कैसे आप जल्दी रिटायरमेंट से सुकून से जी सकते हैं। हमारे साथ मौजूद है सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर दिपाली सेन।


दिपाली सेन का कहना है कि जल्दी रिटायर के लिए आप सबसे पहले  अपने खर्चों का आकलन करें। खर्चों का हिसाब बनाते समय महंगाई का ध्यान रखें। अपने कर्ज जल्दी चुकाने की कोशिश करें। रिटायरमेंट के लिए निवेश जल्दी शुरु करें। एसआईपी के जरिए म्युचुअल फंड में निवेश करें। कमाई बढ़ने के साथ एसआईपी की रकम बढ़ाते रहें ताकि रिस्क और रिटर्न के बीच बैलेंस जरुर रहें।


क्यों करे म्युचुअल फंड्स में निवेश? इस सवाल पर दिपाली सेन ने कहा कि निवेश पर लिक्विडिटी रहती है। बाजार से जुड़े रहना फायदेमंद है।  म्युचुअल फंड्स में निवेश में पारदर्शिता बनी रहती है और पैसा मैनेज करने में सहूलियत भी होती है। साथ ही म्युचुअल फंड्स में टैक्स पर फायदा भी मिलता है।


सवालः एक्सिस लॉन्ग टर्म इक्विटी फंड में 500 रुपये प्रति महीने, 25 साल के लिए 1500 रुपये प्रति महीने का निवेश करना है। साथ ही - स्टार हेल्थ पॉलिसी ली है, सम एश्येर्ड 3 लाख है। रिटायरमेंट के लिए 70 लाख रुपये चाहिए। किन म्युचुअल फंड्स में निवेश सही ?म्युचुअल फंड पर रिटर्न का हिसाब कैसे करें ?


दिपाली सेनः 30,000 रुपये प्रति महीने के खर्च के हिसाब से रिटायरमेंट पर करीब 13.67 लाख रुपये सालाना की जरूरत होगी। रिटायरमेंट के लिए कुल 3.2 करोड़ होने चाहिए। इसके लिए डाइवर्सिफाइड इक्विटी फंड में 17,000 रुपये प्रति महीने का निवेश करना होगा। सालाना 12 फीसीद रिटर्न की उम्मीद कर सकते हैं। फिलहाल क्षमता के हिसाब से निवेश करें। आय बढ़ने पर निवेश बढ़ाएं। फ्लोटर हेल्थ पॉलिसी लें जिसमें आपको और आपके माता-पिता को कवर मिलेगा।


आप बिड़ला सनलाइफ फ्रंटलाइन इक्विटी फंड, यूटीआई इक्विटी फंड
और आईसीआईसीआई प्रू फोकस्ड ब्लूचिप फंड में निवेश कर सकते है।