Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

भारत को मिलेगी हाइपरलूप ट्रांसपोर्टेशन सुविधा

प्रकाशित Thu, 07, 2017 पर 08:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ट्रैफिक में फंसे होने के दौरान आप सोचते होंगे कि काश वहां से जल्द निकल पाते, लेकिन रफ्तार का किंग कहलाने वाला हाइपरलूप आपकी इस टेंशन को दूर कर देगा। भारत में अब ट्रांसपोर्टेशन के इस नए आयाम को हकीकत बनाने का काम करेगी हाइपरलूप ट्रांसपोर्टेशन टेक्नोलॉजी। दरअसल एचटीटी ने आंध्र प्रदेश सरकार के साथ करार किया है जिसके तहत अमरावती से लेकर विजयवाड़ा तक हाइपरलूप शुरू किया जाएगा। हाइपरलूप शुरू होने के बाद 1 घंटे का सफर महज 5 मिनट में पूरा हो सकेगा। यही नहीं इस करार के तहत 2500 नई नौकरियां भी पैदा होंगी।


इस प्रोजेक्ट के पहले चरण में 6 महीने की रिसर्च की जाएगी। पहले चरण का काम पूरा होने के बाद दूसरे चरण में हाइपरलूप बनाने का काम शुरू होगा। आपको बता दें कि हाइपरलूप में वैक्यूम पाइप में से ट्रांसपोर्टेशन कैप्सूल या पॉड को एक जगह से दूसरी जगह पर हवाई जहाज से भी तेज रफ्तार से भेजा जाता है। ये मुमकिन होगा इलेक्ट्रिक मोटर की ओर से मिली ताक़त, कंट्रोल किए गए मैगनेटिक लैविटेशन यानि चुंबकीय शक्ति से हवा में तैरने की क्षमता और पाइप में हवा के कम से कम दबाव से कम हुए फ्रिक्शन की बदौलत।