Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

टेक गुरुः शाओमी एमआई A1 का रिव्यू

प्रकाशित Fri, 15, 2017 पर 19:17  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बड़े लंबे वक्त से हम सब इंतजार कर रहे थे कि कब शाओमी अपना डुअल कैमरा फ्लैगशिप फोन एमआई 5X इंडिया में लॉन्च करेगा। और आखिर शाओमी ने फोन लॉन्च किया लेकिन एमआई 5X नहीं, बल्कि एमआई A1। ये दोनों फोन एक ही हैं, फर्क है तो बस नाम का। तो कैसा है ये फोन और इसे लिया जाए या नहीं, ये आपको बताएंगे लेकिन सबसे पहले नजर डालते हैं फोन के स्पेसिफिकेशन पर।


शाओमी एमआई A1 में साढ़े पांच इंच का फुल एचडी डिस्प्ले दिया गया है जिसे स्क्रैचेज से बचाने के लिए कॉर्निंग गोरिला ग्लास 3 की परत चढ़ाई गई है। मेटल यूनिबॉडी वाला ये फोन 12 मेगापिक्सल के डुअल कैमरा सेटअप से लैस है। सेल्फी के लिए फोन में 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया गया है। एमआई A1 में 4जीबी रैम और 64जीबी मेमोरी का कॉम्बिनेशन दिया गया है। मेमोरी को एसडी कार्ड के जरिए 128जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। फोन में दो गीगाहर्डज का ऑक्टाकोर क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर है और गेमिंग के लिए एड्रीनो 506 जीपीयू दिया गया है। ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए फोन में मिलता है एंड्रॉयड 7.1.2 नूगा आउट ऑफ द बॉक्स। एमआईA1 में 3080एमएएच की बैटरी है और इस फोन की कीमत है 14,999 रुपये।
 
एमआई A1 का रियर कैमरा फोन की खासियत है। और हो भी क्यों ना, कंपनी ने कैमरा परफॉर्मेंस को बेहतरीन बनाने में काफी मेहनत की है। और इसका नतीजा आपको फोटो क्लिक करने पर साफ पता लगता है। कैमरा कलर्स को अच्छी तरह कैप्चर करता है जिससे फोटो क्रिस्प आती हैं।पोट्रेट मोड सिलेक्ट कर फोटो पर बोकेह इफेक्ट दिया जा सकता है। लेकिन एक अच्छी पोट्रेट के लिए आपको काफी मेहनत करनी पड़ेगी। पोट्रेट मोड में फोटो क्लिक करते वक्त कैमरा कई सारी कंडिशन्स रखता है। जैसे ऑबजेक्ट 2-2.5 मीटर की दूरी पर ही हो, या लाइटिंग कम न हो। ऐसे में आपको इस मोड में बड़े ध्यान से फोटो लेनी पडेंगी। लेकिन कैमरा का 2x जूम आपको अच्छे क्वालिटी के फोटो देता है। बाकी शाओमी फोन की तरह ही एमआई A1 में भी फिल्टर, पैनोरामा,  मैनुअल और ग्रुप सेल्फी जैसे मोड मौजूद हैं।
 
शाओमी ने जितनी मेहनत फोन के रियर कैमरा पर की है उतनी फ्रंट कैमरा पर नहीं की। सेल्फी कैमरा से ली गई फोटो ठीक-ठाक आती है। लेकिन फोटो पर एक ग्रे टोन आता है। सेल्फी वॉश्ड आउट आती है तो ये एक प्वाइंट है जो पसंद नहीं आया।


एमआई A1 से 4k और फुल एचडी वीडियो बना सकते हैं। लेकिन वीडियो बनाते समय फोन को फोकस करने में थोड़ा वक्त लगता है। एमआई A1का रियर कैमरा उठा हुआ है, जिससे फोन को नीचे रखने पर कैमरा पर स्क्रैच लगने का डर रहता है। इसे बचने के लिए आप फोन पर कवर लगाएं रखें तो बेहतर होगा। चलिए फोन के कैमरा के बाद चलते हैं फोन के डिस्प्ले पर। फोन का फुल एचडी डिस्प्ले शानदार है। इसलिए फोन पर मूवीज और वीडियोज देखना काफी मजेदार है। फोन दिखने में भी बेहद सुंदर है। फोन की मेटल यूनीबॉडी, मैट बैक पैनल और स्लीकनेस फोन के लुक्स को इंप्रेसिव बनाती है। फोन का वजन भी सिर्फ 165 ग्राम है तो इसे हैंडल करने में परेशानी नहीं आती।
 
अब चलते हैं फोन की परफॉर्मेंस की तरफ। फोन में रैम, स्टोरेज और प्रोसेसर का एक बढ़िया कॉम्बिनेशन दिया गया है। स्नैपड्रैगन 625 की परफॉर्मेंस हमेशा की तरह काफी स्मूद है। यही वजह है कि ज्यादातर मिड  रेंज बजट फोन्स इस प्रोसेसर को चुनते हैं। एमआईA1 पर आप चाहें म्लटी विंडो में काम करें या फिर क्रोम पर कई टैब्स पर ब्राउसिंग, फोन काफी आसानी से सारे काम हैंडल कर लेता है। लेकिन जब गेमिंग की बात आती है, तो ये फोन इतना स्मूदली काम नहीं कर पाता। नॉर्मल गेमिंग में तो कोई परेशानी नहीं आती, लेकिन अगर आप एसफॉल्ट 8 एयरबॉर्न या मॉडर्न कॉम्बैट 5 जैसे गेम्स खेलें तो कभी- कभी गेम लैग होता है। ये बहत फ्रीक्वेंट तो नहीं है, लेकिन नोटिस जरूर होता है।
 
शाओमी ने एमआई A1 के साथ एक बड़ा बदलाव किया है और वो है एंड्रॉयड वन के साथ कोलैबोरेशन। एंड्रॉयड वन स्मार्टफोन की वो रेंज है जिसमें कम कीमत वाले फोन्स पर भी एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम मिलता है। शाओमी के इस कोलेबरोशन का मतलब है कि आपको एमआई A1 पर स्टॉक एंड्रॉयड एक्सपीरियंस मिलेगा।


एमआईA1 एंड्रॉयड 7.1.2 पर काम करेगा  लेकिन शाओमी ने इस फोन के लिए एमआईयूआई के कह दिया है बाय- बाय। ये खबर स्टॉक एंड्रॉयड फैन्स के लिए तो अच्छी है लेकिन शाओमी के चाहने वालों को शायद ये पसंद न आए। एमआईयूआई पर काम करने का अपना ही मजा था और ये शाओमी फोन्स को बाकी फोन से अलग भी बनाता था। हालांकि यूआई ना होने से फोन की परफॉर्मेंस पर कोई फर्क नहीं पड़ता। एंड्रॉयड एक्सपीरिएंस को बेहतर बनाए रखने के लिए शाओमी ने साल के अंत तक एमआई A1 पर एंड्रॉयड ओरियो अपडेट लाने का वादा भी किया है। लेकिन शाओमी ने एमआई A1 की बैटरी में कटौती की है और इसे रेडमी नोट 4 की 4000एमएएच की बैटरी के मुकाबले घटा दिए है। फोन में टाइप सी पोर्ट तो है लेकिन ये  क्विक चार्ज सपोर्ट नहीं करता। फोन को फुल चार्ज होने में करीब 2 घंटे लगते हैं। लेकिन बैटरी ऑप्टिमाइजेशन के चलते ये  फोन 7-8 घंटे तक आपका साथ दे देगा। फोने के रियर पर दिया गया फिंगरप्रिंट काफी एक्यूरेट है। लेकिन ज्यादा स्नैपी नहीं है। सेंसर फिंगरप्रिंट को रेकगनाइज कर लेता है लेकिन डिस्प्ले ऑन होने में के थोड़ा वक्त लगता है।


फोन की ऑडियो क्वालिटी दमदार है। चाहे  आप फोन पर बात कर रहे हों या थोड़े शोर गुल में वीडियो देख रहे हैं। आपको आवाज़ साफ सुनाई देती है। और इसका श्रेय जाता है फोन में मौजूद दस वॉट के इनबिल्ट एम्प्लीफायर को। इस डुअल सिम फोन में शाओमी ने आईआर ब्लास्टर को कायम रखा है जिससे इसे रिमोट की तरह इस्तेमाल किया जा सके। कनेक्टिविटी के लिए फोन में यूएसबी 2.0, ब्लूटूथ 4.2, वाइ-फाई मौजूद  है।