Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

फार्मा के लिए क्या हैं बड़े ट्रिगर, कहां रखें नजर

प्रकाशित Thu, 21, 2017 पर 15:18  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फार्मा शेयरों में आज अच्छी तेजी दिख रही है। लेकिन आगे फार्मा शेयरों के लिए क्या बड़े ट्रिगर हैं इस पर बात करें तो डॉ रेड्डीज के श्रीकाकुलम प्लांट पर यूएस एफडीए ने 17 अप्रैल 2017 को 2 आपत्तियां उठाईं। वहीं मार्च 2017 में कंपनी के फॉर्मुलेशन प्लांट पर यूएस एफडीए की 13 आपत्तियां आईं। अप्रैल 2017 में बचुपल्ली फॉर्मुलेशंस पर यूएसएफडीए की 11 आपत्तियां आईं थी।


डॉक्टर रेड्डीज में आज अच्छी तेजी देखने को मिली। दरअसल डॉक्टर रेड्डीज की दो युनिट्स को यूएस एफडीए से क्लीन चिट मिल गई है। श्रीकाकुलम यूनिट-2 को यूएस एफडीए ने आज क्लीन चिट दी है। वहीं हैदराबाद की यूनिट की जांच पूरी हो गई है और एफडीए ने युनिट को लेकर कोई आपत्ति जारी नहीं की। खबरों के चलते कंपनी के शेयर में करीब 7 प्रतिशत का उछाल रहा।


डिवीज लैब की बात करें तो 11-19 सितंबर को यूनिट-2 की यूएस एफडीए ने जांच की जिसमें 6 आपत्तियां उठाई गईं। अमेरिका में होने वाली कंपनी की बिक्री में यूनिट-2 का 20-22 फीसदी हिस्सा है। बता कि कंपनी की यूनिट-1 की जांच भी इस साल हो सकती है। कुल बिक्री में यूनिट-1 का 10 फीसदी हिस्सा है।


सन फार्मा की बात करें तो हलोल प्लांट के क्लियरेंस का सबसे ज्यादा इंतजार है। दिसंबर 2016 में यूएस एफडीए ने 9 आपत्तियां जारी की थी।


उधर वॉकहार्ट के 6 प्लांट्स यूएस एफडीए की जांच के दायरे में हैं। महाराष्ट्र के वलुज, चिकलठाणा, शेंद्र प्लांट की जांच होगी। गुजरात का अंकलेश्वर एपीआई प्लांट भी जांच के दायरे में है। यूके के सीपी फार्मा और अमेरिका के मॉर्टन ग्रोव की भी जांच होगी।


बायोकॉन के लिए ट्रिगर की बात करें मलेशियन प्लांट को ईयू से क्लियरेंस मिल गया है। यूएस एफडीए की जांच का इंतजार है। कंपनी के बंगलुरू प्लांट पर यूएस एफडीए ने सवाल उठाए हैं।


फार्मा सेक्टर से आज निफ्टी को सपोर्ट मिलता दिखा। ऑर्किड फार्मा और केडिला हेल्थ जैसे फार्मा शेयरों में कारोबार हरे निशान में रहा। दरअसल ऑर्किड फार्मा के अलाथुर एपीआई यूनिट को यूएस एफडीएसे क्लीन चिट मिल गई है। यूएस एफडीए ने मई 2017 में यूनिट की जांच की थी। दूसरी तरफ जायडस केडिला की फंगल इंफेक्शन की दवा स्पोरानॉक्स कोयूएस एफडीएसे मंजूरी मिल गई है।