Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कॉरपोरेट गवर्नेंस पर सेबी को सौंपी गई रिपोर्ट

प्रकाशित Fri, 06, 2017 पर 09:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कॉरपोरेट गवर्नेंस को और पुख्ता बनाने के लिए कोटक कमिटी ने सेबी को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। उदय कोटक की अध्यक्षता वाली कमिटी ने सिफारिश की है कि चेयरमैन और सीईओ की भूमिका को अलग-अलग हों। इसके अलावा कमिटी ने कहा है कि लिस्टेड कंपनियों में कम से कम 6 डायरेक्टर हों और उनमें से भी एक डायरेक्टर महिला होनी चाहिए। कमिटी ने ये भी कहा है कि कंपनी बोर्ड में आधे डायरेक्टर इंडिपेंडेंट होने चाहिए। कंपनियों को हर तिमाही में कंसोलिडेटेड नतीजे देने की भी सिफारिश की गई है। इसके अलावा हर 6 महीने का कैश फ्लो स्टेटमेंट देने का भी सुझाव दिया गया है।


रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि साल में कम से कम 5 बार ऑडिट कमिटी की बैठक होनी चाहिए। बोर्ड में हर डायरेक्टर की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए। डायरेक्टरों के इस्तीफे का कारण सार्वजनिक होना चाहिए। कंपनियां चेयरमैन और सीईओ की भूमिका को अलग करें, तिमाही नतीजों में कंसोलिडेटेड आय की जानकारी दी जाए, लिस्टेड कंपनियों में ज्यादा से ज्यादा 8 डायरेक्टर हों और एपपीआई, डीआईआई की जानकारी कंपनियां एक्सचेंज को बताएं।