Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- फंडामेंटल

बाजार में बनी रहेगी तेजी, कहां करें फोकस

प्रकाशित Mon, 06, 2017 पर 11:21  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार की आगे की चाल और दिशा पर बात करते हुए मार्केट एक्सपर्ट उदयन मुखर्जी का कहना है कि एसेट मैनेजमेंट बिजनेस ही अनिल अंबानी ग्रुप का सबसे अच्छा बिजनेस है। इससे उनकी दूसरी ग्रुप कंपनियों से बहुत ज्यादा लेने देन नहीं है। पिछले कुछ सालों में रिलायंस निपॉन एएमसी में अच्छी ग्रोथ भी हुई है।


उदयन मुखर्जी के मुताबिक म्युचुअल फंड काफी अच्छा स्पेस है रिलायंस निपॉन एएमसी के तौर पर बाजार में एक प्योर एसेट मैनेजमेंट कंपनी ने पैर रखे हैं। इस बिजनेस में पिछले 1-1.5 साल से लगातार ग्रोथ देखने को मिल रही है। आगे भी इस स्पेस में अच्छी बढ़त देखने को मिलेगी।


उदयन मुखर्जी का कहना है कि जीएसटी से अनऑर्गनाइज्ड सेक्टर से ऑर्गनाइज्ड सेक्टर की तरफ शिफ्ट बढ़ा है जिसका असर मार्केट पर भी देखने को मिल रहा है। इस शिफ्ट का फायदा कन्ज्यूमर सेक्टर खास कर ज्यूलरी सेक्टर को सबसे ज्यादा मिल रहा है जिसके चलते टाइटन जैसी कंपनियों में अच्छी मजबूती देखने को मिल रही है। लेकिन इलेक्ट्रिकल्स जैसे कुछ सेक्टर पर अभी इसका असर आना बाकी है।


बैंकों के रिकैपिटलाइजेशन पर बात करते हुए उदयन मुखर्जी ने कहा कि सरकार मजबूत प्रदर्शन करने वाले बैंकों को ही ग्रोथ कैपिटल देने पर फोकस कर सकती है ऐसे में जो मजबूत पीएसयू बैंक हैं उन पर ही फोकस करने की रणनीति अपनानी चाहिए।


पैराडाइज पेपर्स मामले पर बात करते हुए उदयन मुखर्जी ने कहा कि बाजार में इस समय सेंटीमेंट बहुत हाई हैं ऐसे माहौल में पैराडाइज पेपर्स जैसे मामले का बाजार पर बहुत ज्यादा असर नहीं होगा। आजकल तेजी चल रहा है और तेजी में तो बाजार बहुत सारी निगेटिव चीजें देखता ही नहीं है, भूल जाता है।