Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

तेजी के मूड में बाजार, कहां मिलेगा खरीदारी का मौका

प्रकाशित Mon, 06, 2017 पर 16:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हफ्ते के पहले दिन लाल निशान में शुरुआत के बाद बाजार में बेहद अच्छी रिकवरी देखने को मिली। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने में कामयाब रहे। सेंसेक्स ने नया रिकॉर्ड बनाते हुए पहली बार 33800 का स्तर छुआ, वहीं निफ्टी 10490 के पार निकला। लेकिन आखिरी घंटे में बाजार ने सारी बढ़त गंवा दी। आखिरी घंटे में खासतौर से बैंकिंग शेयरों में काफी दबाव रहा जिसने बाजार को नीचे खींचा।


ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के संदीप जैन का कहना है कि प्राइवेट बैंकिंग सेक्टर में वैल्यूएशन काफी मंहगे है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि इसमें बिकवाली की सलाह नहीं होगी। प्राइवेट बैंकिंग सेक्टर में एचडीएफसी बैंक, फेडरल बैंक में खरीदारी की जा सकती है।


आरईसी और पीएफसी में मौजूदा स्तर से तेजी की पूरी संभावनाएं बनी हुई है। हालांकि इन दोनों में ही ऊपरी स्तर से करेक्श देखी गई है। लिहाजा मौजूदा निवेशक बने रहें और नए निवेशक इन स्टॉक्स में गिरावट में खरीदारी करें। रिलायंस कैपिटल में गिरावट देखने को मिली है। एडीएजी ग्रुप में रिलायंस पावर काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। रिलायंस पावर में वैल्यूएशन काफी अच्छा है और इसमे मुमेमट भी देखने को मिल रही है। लिहाजा इसमें खरीदारी की जा सकती है।


टेक्निकल एक्सपर्ट राजेश सतपुते का कहना है कि अदानी पावर में मौजूदा स्तर से 3-4 फीसदी तक की तेजी देखने को मिल सकती है। लिहाजा इसमें 34 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ इंट्राडे का नजरिया रख खरीदारी की जा सकती है। सिप्ला में मुमेंटम जारी रहने की उम्मीद है। लिहाजा इसमें 635 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 702 रुपये के लक्ष्य के लिए पोजिशनल नजरिया रख खऱीदारी की जा सकती है।


अर्बन ऑफशोर में पॉजिटीव संकेत नजर आ रहे है। इसमें मौजूदा स्तर से 200 रुपये के स्टॉपल़ॉस के साथ खरीदारी करें। इसमें 260 रुपये के लक्ष्य जल्द देखने को मिल सकते है। मैक्स फाइनेशिंयल में 600 रुपये के स्तर आसानी से देखने को मिल सकते है। लिहाजा इसमें 560 रुपये के निचले स्तर पर स्टॉपलॉस रख खरीदारी की राय होगी।


रिस्क कैपिटल एडवायजर्स के डी डी शर्मा का कहना है कि रिलायंस निपॉन को होल्ड करने की सलाह देते हुए कहा कि कंपनी का आउटलुक काफी बेहतर है। टाइटन के नतीजे अच्छे रहे है। इसमें लंबी अवधि का नजरिया रख खरीदारी की जा सकती है क्योंकि कंपनी के नतीजों में साफ नजर आया है कि नोटबंदी का असर पूरी तरह से खत्म हुआ है। लिहाजा मौजूदा निवेशक इसमें बने रहें और नए निवेशक मौजूदा स्तर या फिर गिरावट पर खरीदारी करें। 


डी डी शर्मा के अनुसार इंश्योरेंस सेक्टर में मैक्स फाइनेशिंयल में दांव लगाने की सलाह होगी क्योंकि इसमें आनेवले दिनों में तेजी की पूरी संभावनाएं नजर आ रही है।