Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

सीट बेल्ट को लेकर लोग बेपरवाह, सर्वे में खुलासा

प्रकाशित Mon, 06, 2017 पर 18:47  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कार कैसी भी हो छोटी या बड़ी लेकिन जरुरी है हमारी और हमारे अपनों की सुरक्षा। जिस तरह आप अपने परिवार का सुरक्षा कवच होते है ठीक उसी तरह कार में लगे सीट बेल्ट आपकी सुरक्षा करता है लेकिन अधिकतर लोग सीट बेल्ट को लेकर बेपरवाह है। मारुति सुजुकी के सर्वे के मुताबिक हेलमेट पहनने और सीट बेल्ट लगाने के महत्व को नहीं समझतें।


सड़क परिवहन मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार साल 2016 में सड़क दुर्घटना में 1.5 लाख लोगों ने जान गंवाई है। यानि सड़क दुर्घटना में हर एक मिनट में 17 लोगों की मौत हो रही है।


वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाईजेशन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2016 में सीट बेल्ट नहीं लगाने से 5,638 लोगों ने जान गंवाई। अगर वहीं लोग सीट बेल्ट लगाने से 50 फीसदी जानें बचाई जा सकती थीं। वहीं मारुति सुजुकी के सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक कार में आगे बैठने वाले केवल 25 फीसदी लोग ही सीट बेल्ट पहनते है जबकि कार में पीछे बैठे 4 फीसदी लोग ही सीट बेल्ट पहनते हैं। रिपोर्ट के अनुसार 35 फीसदी कार इस्तेमाल करने वालों ने कभी सीट बेल्ट पहनी ही नहीं है।


सर्वे में कहा गया है कि एसयूवी चलाने वाले 77 फीसदी लोग, हैचबैक चलाने वाले 72 फीसदी लोग, सेडान चलाने वाले 68 फीसदी और लग्जरी चलाने वाले 59 फीसदी लोग सीट बेल्ट नहीं पहनते है। शहरों की बात करें तो कोयंबटूर एक ऐसा शहर है जहां 100 फीसदी लोगों को सीट बेल्ट सबसे गैरजरुरी लगता है जबकि इंदौर में 95 फीसदी लोग और बंगलुरु में 94 फीसदी लोग सीट बेल्ट नहीं लगाते है।


सीट बेल्ट ना पहनने के लिए लोगों का अपना अलग ही मत है। कुछ लोगों का कहना है कि कानून सख्ती से लागू नहीं होने के कारण वह सीट बेल्ट नहीं पहनते जबकि कुछ लोगों का कहना है कि सीट बेल्ट पहनने से कपड़ों को नुकसान होता है। वहीं कुछ लोगों ने गाड़ी चलाने में परेशानी की वजह बातते हुए सीट बेल्ट पहनने से पल्ला झाड़ा है।