टाटा मोटर्स का मुनाफा करीब 3 गुना बढ़ा

प्रकाशित Thu, 09, 2017 पर 14:14  |  स्रोत : Moneycontrol.com

वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का मुनाफा करीब 3 गुना बढ़कर 2502 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का मुनाफा 848.2 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 11.3 फीसदी बढ़कर 70,691 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 63,538 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का एबिटडा 6310 करोड़ रुपये से बढ़कर 9010 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का एबिटडा मार्जिन 9.9 फीसदी से बढ़कर 12.7 फीसदी रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का टैक्स खर्च 424.6 करोड़ रुपये से बढ़कर 1070 करोड़ रुपये रहा है।


दूसरी तिमाही में जेएलआर की आय 630 करोड़ पाउंड रही है, जबकि एबिटडा मार्जिन 11.8 फीसदी रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन घाटा 609 करोड़ रुपये से कम होकर 266 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 10282 करोड़ रुपये से बढ़कर 13888 करोड़ रुपये रही है।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन एबिटडा 386 करोड़ रुपये से बढ़कर 787 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन एबिटडा मार्जिन 3.7 फीसदी से बढ़कर 5.7 फीसदी रहा है।


टाटा मोटर्स के मुनाफे में तेज इजाफा हुआ है। इसकी वजह है जैगुआर लैंड रोवर का शानदार प्रदर्शन। कंपनी के निवेशकों के साथ कॉन्फ्रेंस में दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला ने पूछा कि क्या मैनेजमेंट फॉरेक्स हेजिंग से हो रहे घाटे को कम करने की कोशिश कर रहा है। इसके जवाब में कंपनी ने माना कि आगे चलकर फॉरेक्स हेजिंग पर हो रहा घाटा कम होगा।