Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जारी होंगे नए बैंड, बढ़ेगी इंटरनेट स्पीड!

प्रकाशित Thu, 09, 2017 पर 17:41  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जल्द ही आपकी इंटरनेट स्पीड डबल हो जाएगी। दूरसंचार विभाग ने इसके लिए नए ई और वी बैंड के लिए डी-लाइसेंस जारी कर सकती है। जिसके बाद टेलिकॉम कंपनियां नए बैंड डाल सकती है।


आपकी 4जी की स्पीड जल्द ही दोगुनी हो जाएगी। इसके लिए दूरसंचार विभाग नए बैंड ई और वी को लाइसेंस के बंधन से मुक्त करने जा रहा है यानि सभी टेलीकॉम कंपनियां इसका इस्तेमाल कर पाएंगी। टेलीकॉम कंपनियां को अपने सभी टावर इस स्पेक्ट्रम से कनेक्ट करने होंगे जिसके बाद वो ग्राहकों को हाई स्पीड डाटा दे सकेंगी। 


दरअसल अभी देश में ज्यादातर मोबाइल टावर माइक्रोवेव स्पेक्ट्रम के जरिए आपस में या फिर एक्सचेंज से जुड़े हैं और इनकी क्षमता सिर्फ 300 मेगाहर्ट्ज की है। इस वजह से स्पीड काफी कम होती है लेकिन माइक्रोवेव स्पेक्ट्रम की जगह जब ताकतवर ई बैंड लेगा तो उनकी क्षमता बढ़ जाएगी जिससे दोगुनी स्पीड मिलेगी।


दूसरी तरफ वी बैंड का इस्तेमाल करके डाटा को दूर तक भेजा जा सकेगा, क्योंकि वी बैंड की रेंज 2 से 10 किलोमीटर तक जाती है। वी बैंड के इस्तेमाल से उन इलाकों तक पहुंचाया जा सकता है जहां अभी ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क नहीं है। ई और वी बैंड आने के बाद कंपनियां बड़े बड़े वाई-फाई हॉट स्पॉट लगा पाएंगी। इससे इंटरनेट की पहुंच तो बढ़ेगी ही साथ ही स्पीड भी तेज होगी।