एलएंडटी का मुनाफा 26.2% बढ़ा, आय 6.4% बढ़ी

प्रकाशित Sat, 11, 2017 पर 16:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी का मुनाफा 26.2 फीसदी बढ़कर 2131 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी का मुनाफा 1689 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी की आय 6.4 फीसदी बढ़कर 26,446.8 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी की आय 24,856.2 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी का एबिटडा 2315 करोड़ रुपये से बढ़कर 2960 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी का एबिटडा मार्जिन 9.3 फीसदी से बढ़कर 11.2 फीसदी रहा है।


दूसरी तिमाही में एलएंडटी को 136.7 करोड़ रुपये का एकमुश्त मुनाफा हुआ है। वहीं, तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी ने 26,352 करोड़ रुपये के मुकाबले 28,732 करोड़ रुपये के नए ऑर्डर हासिल किए हैं। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी ने 31,119 करोड़ रुपये के नए ऑर्डर हासिल किए थे।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी के डेवलपमेंट प्रोजेक्ट सेगमेंट का एबिट 106.6 करोड़ रुपये से बढ़कर 378 करोड़ रुपये रहा है, जबकि वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में इस सेगमेंट में कंपनी को 49 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी के हाइड्रोकार्बन सेगमेंट का एबिट 143 करोड़ रुपये से बढ़कर 248 करोड़ रुपये रहा है, जबकि वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में हाइड्रोकार्बन सेगमेंट का एबिट 142 करोड़ रुपये रहा था। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी के इंफ्रा सेगमेंट का एबिट 645 करोड़ रुपये से बढ़कर 729 करोड़ रुपये रहा है, जबकि वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में इंफ्रा सेगमेंट का एबिट 701 करोड़ रुपये रहा था।


एलएंडटी का कहना है कि निवेश का माहौल अभी भी सुस्त है। सालाना आधार पर 30 सितंबर तक ऑर्डर बुक 2 फीसदी बढ़कर 2.57 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गई है।