Moneycontrol » समाचार » बीमा

क्लेम चाहिए, सही समय पर जानकारी दें

प्रकाशित Sat, 11, 2010 पर 13:45  |  स्रोत : Hindi.in.com

11 दिसंबर 2010

सीएनबीसी आवाज़



रूंगटा सिक्योरिटीज के हर्ष रूंगटा
का कहना है चोरी के मामले में अगर बीमा कंपनियों से पूरा क्लेम चाहते हैं तो आपको चोरी होने के 48-72 घंटों के भीतर ही इंश्योरेंस कंपनी को सूचित करना चाहिए।




जनरल इंश्योरेंस कंपनियों के क्लेम देने के मामले में कुछ नियम होते हैं जिनके तहत ही वो क्लेम का भुगतान कर सकती हैं। इसलिए बीमाधारक को ही इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि जैसे ही वो वस्तु चोरी होती है जिसका बीमा है तो फौरन इंश्योरेंस कंपनी को जानकारी देनी चाहिए।


उदाहरण के लिए अगर किसी की कार चोरी होती है और उसका बीमा है तो फौरन पुलिस में एफआईआर दाखिल करें, आरटीओ को कार चोरी की सूचना दें और बीमा कंपनी को इन अर्जियों की लिखित प्रति दिखाकर चोरी की सूचना दें। अगर आप चोरी होने के 48-72 घंटों के भीतर इंश्योरेंस कंपनी को सूचना उपलब्ध करा देते हैं तो क्लेम मिलने में कोई समस्या सामने नहीं आनी चाहिए।


हर्ष रूंगटा के मुताबिक किसी भी व्यक्ति को ना तो कम और ना ही ज्यादा बीमा कराने के बारे में सोचना चाहिए। आमदनी के 10-20 गुना कवर का बीमा ठीक रहता है। अगर कम कवर का बीमा हो तो ये बीमा ना होने के बराबर है और अगर ज्यादा राशि का बीमा हो तो ये जान के लिए जोखिम का कारण बन सकता है।


हर्ष रूंगटा का कहना है कि बीमा कराते समय पूरी जानकारी लेना आपके हाथ में है। बीमा एजेंट को अपनी आय, खर्चों. जरूरतों के बारे में पूरी जानकारी दें और विभिन्न कंपनियों के बीमा उत्पाद की तुलना करके ही अपने लिए सबसे सही बीमा पॉलिसी लें।


वीडियो देखें