Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जांच के घेरे में 18 कंपनियां, संदेहजनक ट्रांजैक्शन का आरोप

प्रकाशित Mon, 04, 2017 पर 09:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीरियस फ्रॉड इंवेस्टिगेशन ऑफिस यानि एसएफआईओ करीब 18 कंपनियों की जांच करेगा। इन कंपनियों पर नोटबंदी के दौरान बड़ी तादाद में संदेहजनक ट्रांजैक्शन करने का आरोप है। इससे पहले सरकार करीब 2.25 लाख इनएक्टिव कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द कर चुकी है। इतना ही नहीं सरकार 3 लाख डायरेक्टर्स को भी अमान्य घोषित कर चुकी है। इसी कड़ी में अब सरकारी अथॉरिटीज को कुछ डीरजिस्टर्ड कंपनियों के बड़ी तादाद में संदेहजनक ट्रांजैक्शन का पता चला है जिसकी जांच की जाएगी। एक सरकारी आंकड़े के मुताबिक नोटबंदी के दौरान करीब 50,000 डीरजिस्टर्ड कंपनियों ने करीब 17,000 करोड़ रुपये जमा किए और निकाले।